रिपब्लिक TV पर HC की टिप्पणी- तुम ही पुलिस, वकील और जज बन जाओगे तो हम किस लिए हैं

अदालत ने रिपब्लिक टीवी की एडवोकेट मालविका त्रिवेदी से कहा कि अगर आप वाकई सच्चाई उजागर करना चाहते हैं तो पहले CrPC पढ़ें.

रिपब्लिक TV पर HC की टिप्पणी- तुम ही पुलिस, वकील और जज बन जाओगे तो हम किस लिए हैं
फाइल फोटो

मुंबई: बॉम्बे हाईकोर्ट ने आज मीडिया पर सख्त तबसिरा किया है. कोर्ट ने तइतरफा मीडिया ट्रायल पर नाराज़गी ज़ाहिर करते हुए कहा कि अगर आप ही जांच करने वाले, आप ही प्रॉसिक्यूशन और आप ही जज बन जाओगे तो हम यहां कि लिए हैं? जस्टिस दीपांकर दत्ता और जस्टिस जी एस कुलकर्णी की बेंच बुध के रोज़ सुशांत राजपूत मामले की सुनवाई कर रही थी.

अदालत ने रिपब्लिक टीवी की एडवोकेट मालविका त्रिवेदी से कहा कि अगर आप वाकई सच्चाई उजागर करना चाहते हैं तो पहले CrPC पढ़ें. कानून की जानकारी न होना कोई बहाना नहीं हो सकता. सुनवाई के दौरान रिपब्लिक टीवी की वकील ने कबूल किया कि चैनल ने इन्वेस्टिगेटिव जर्नलिज्म की है. वकील ने दावा किया कि चैनल ने ऐसा करके सुशांत केस की जांच में हो रही खामियों को ही उजागर किया.

उन्होंने यह भी दावा किया कि अदालत यह नहीं कह सकती कि मीडिया पुलिस जांच की खामियों को उजागर नहीं कर सकती और न ही उसकी रिपोर्टिंग बंद करने की हिदायत दे सकती है. इस पर अदालत ने कहा कि अगर आप ही जांचकर्ता, आप ही अभियोजक और आप ही जज बन जाओगे तो फिर हम यहां किसलिए हैं? अदालत ने कहा कि वे मीडिया का गला बंद करने की बात नहीं कह रहे हैं. उनकी फिक्र सिर्फ प्रोग्राम कोड के पालन को लेकर है.

Zee Salaam LIVE TV