Chhattisgarh News: लोकसभा चुनाव में जीत की खुशी, BJP सपोर्टर ने उंगली काट मंदिर में चढ़ाई
Advertisement
trendingNow,recommendedStories0/zeesalaam/zeesalaam2284240

Chhattisgarh News: लोकसभा चुनाव में जीत की खुशी, BJP सपोर्टर ने उंगली काट मंदिर में चढ़ाई

Chhattisgarh News:  छत्तीसगढ़ के बलरामपुर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक बीजेपी सपोर्टर ने एनडीए की जीत की खुशी में अपनी उंगली काटकर मंदिर में चढ़ा दी

Chhattisgarh News: लोकसभा चुनाव में जीत की खुशी, BJP सपोर्टर ने उंगली काट मंदिर में चढ़ाई

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में एक 30 साल के शख्स ने लोकसभा चुनावों में बीजेपी अलायंस एनडीए के बहुमत हासिल करने के बाद अपनी उंगली काटकर एक मंदिर में देवी काली को चढ़ा दी. यह मामला 4 जून को नतीजों वाले दिन पेश आया.

बीजेपी सपोर्टर है दुर्गेश

ऐसा करने वाले शख्स का नाम दुर्गेश है, जो एक बीजेपी सपोर्टर है. इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक जब दुर्गेश को पता चला कि लोकसभा चुनाव के शुरुआती रुझानों में कांग्रेस आगे चल रही है तो वे डिप्रेशन में चला गया. इसके बाद वे काली मंदिर गया और भाजपा की जीत के लिए प्रार्थना की.

देवी को अर्पित की अपने बाएं हाथ की उंगली

रिपोर्ट के मुताबिक बाद में जब पांडे ने देखा कि भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभर रही है और एनडीए 272 के बहुमत के आंकड़े को पार कर गया है, तो वह बहुत खुश हुआ और फिर से काली मंदिर गया, जहां उसने अपने बाएं हाथ की उंगली काटकर देवी को अर्पित कर दी.

इसके बाद उन्होंने घाव पर कपड़ा बांधकर खून बहने से रोकने की कोशिश की. लेकिन, समय के साथ स्थिति और खराब होती गई. हालत गंभीर होने की वजह से उसके परिवार के लोग उसे सामरी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए. चिकित्सा स्टाफ ने आपातकालीन प्राथमिक उपचार प्रदान किया, लेकिन उसकी चोट की गंभीरता को देखते हुए उसे अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज रेफर करना आवश्यक समझा.

मेडिकल कॉलेज में डॉक्टरों ने खून बहने से रोकने के लिए ऑपरेशन किया, दुर्भाग्य से, इलाज में देरी के कारण वे उसकी कटी हुई उंगली फिर से नहीं जुड़ पाई. इसके अलावा पांडे के हालत अभी नॉर्मल है और वह खतरे से बाहर है.

पांडे कहता है,"शुरुआती रुझानों में कांग्रेस को बढ़त मिलती देख मैं परेशान हो गया. कांग्रेस समर्थक बहुत उत्साहित थे. मैं अपने गांव में काली मंदिर गया, जिस पर पूरे गांव की आस्था है. मेरी भी उसमें आस्था थी और मैंने मन्नत मांगी." पांडे आगे कहता है, "उस शाम जब भाजपा चुनाव जीत रही थी, तो मैं मंदिर गया, अपनी उंगली काटकर चढ़ा दी. भाजपा अब सरकार बनाएगी, लेकिन मुझे ज्यादा खुशी होती अगर वे (एनडीए) 400 का आंकड़ा पार कर जाते."

Trending news