'सियासत पर बात नहीं करना चाहूंगा लेकिन मेरी खामोशी को कमज़ोरी न समझा जाए': ठाकरे

सीएम ने इशारों इशारों में कहा है कि मेरी चुप्पी को मेरी कमज़ोरी न समझें, महाराष्ट्र की बदनामी करने वालों पर बात की जाएगी.

'सियासत पर बात नहीं करना चाहूंगा लेकिन मेरी खामोशी को कमज़ोरी न समझा जाए': ठाकरे
फाइल फोटो

मुंबईः रविवार को महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के ज़रिए अवाम को खिताब किया. कांफ्रेंस के दौरान सीएम ने कंगना तनाज़े (विवाद) पर कुछ भी नहीं कहा, हालांकि सीएम ने इशारों इशारों में कहा है कि मेरी चुप्पी को मेरी कमज़ोरी न समझें, महाराष्ट्र की बदनामी करने वालों पर बात की जाएगी. कांफ्रेंस का अहम मकसद कोरोना से बचाव और 'मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी' मुहिम की शुरुआत करना रहा. उन्होंने अवाम से कहा आप खबरदार रहें, हम जिम्मेदार रहेंगे. कुछ जिम्मेदारी आप उठाएंगे, कुछ हम उठाएंगे.

महाराष्ट्र की बदनामी करने वालों पर साधा निशाना

सीएम उद्धव ठाकरे ने कंगना रनौत से जुड़े किसी भी मुद्दे पर अपने रद्देअमल का इज़हार नहीं किया है और कहा कि फिलहाल मैं सियासत पर बात नहीं करना चाहूंगा. लेकिन इसका ये मतलब नहीं है कि मेरे पास जवाब नहीं है. महाराष्ट्र को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है. इसलिए मैं महाराष्ट्र की बदनामी पर बात करूंगा. 

मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी' मुहिम की शुरुआत होगी

सीएम ने खिताब कर बताया कोरोना वायरस के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए 15 सितम्बर से एक नई मुहिम का आगाज़ किया जाएगा. अपने सूबे महाराष्ट्र और परिवार से प्यार करने वाले सभी लोग इस मुहिम से जुड़ सकेंगे. मुल्क में इस वक्त कोरोना के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में ही है. सीएम ने कहा महाराष्ट्र हमारा परिवार है, इसे महफूज़ रखने की जिम्मेदारी यहां के लोगों की ही हैं. मास्क ही हमारा ब्लैक बेल्ट है, यही महाराष्ट्र को महफूज़ रखेगा. इसलिए इंतेज़ामिया के ज़रिए इस मुहिम का नाम 'मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी' रखा गया है.

Zee Salaam LIVE TV