दिल्ली तशद्दुद के मुतास्सिरीन घर पहुंच रहा है राहती सामान और मुआवज़े का फार्म

दिल्ली तशद्दुद में अब तक 42 लोगों की मौत हो चुकी है. हालात फिलहाल आम हैं और लोग एक दूसरे की मदद के लिए आगे आ रहे हैं.

दिल्ली तशद्दुद के मुतास्सिरीन घर पहुंच रहा है राहती सामान और मुआवज़े का फार्म

नई दिल्ली: दिल्ली तशद्दुद में अब तक 42 लोगों की मौत हो चुकी है. हालात फिलहाल आम हैं और लोग एक दूसरे की मदद के लिए आगे आ रहे हैं. साथ ही दिल्ली हुकूमत की जानिब से भी मुतास्सिरीन के घरो पर राहती सामान पहुंचाया जा रहा है और एक फार्म भी जिया जा रहा है जिसमें वो अपने हर तरह के नुकसान का ज़िक्र कर फार्म जमा करेंगें और फिर उनको मुनासिब मुआवज़ा दिया जाएगा. बता दें कि दिल्ली के वज़ीरे आला अरविंद केजरीवाल ने जुमेरात को अलग-अलग मुआवज़े का ऐलान किया था. जिसमें:

  • नाबालिग की मौत पर 5 लाख रु. का मुआवज़ा
  • शदीद तौर पर ज़ख्मी होने वाले को 2 लाख़ रु. का मुआवज़ा
  • माज़ूर होने वाले को 5 लाख रु. का मुआवजा
  • मामूली तौर पर ज़ख्मी होने वाले को 20 हजार रु. का मुआवजा
  • अनाथ होने वाले को 3 लाख़ रु. का मुआवज़ा
  • जानवरों के नुकसान होने पर पांच हज़ार रु. एक जानवर का मुआवज़ा
  • रिक्शा तबाह होने पर 25 हज़ार रु. मुआवज़ा
  • ई रिक्शा के केस में 50 हज़ार रु. का मुआवज़ा
  • किसी का घर पूर तरह से जल जाने पर 5 लाख़ रु का मुआवज़ा
  • और अगर कोई किरायदार था तो एक लाख रु किरायदार और 4 लाख रु. मकान मालिक को मुआवज़ा 
  • घर पूरी तरह घर ना जलने पर 2.5 लाख रु. का मुआवज़ा
  • कॉमर्शियल या दुकान के नुकसान होने पर 5 लाख़ रुपय तक का मुआवज़ा दिया जाएगा