कोरोना को चलते मुल्कभर में सादगी से मनाई जा रही है ईद-उल-अज़हा

इस साल हर त्योहार की तरह ईद उल अज़हा भी कोरोना के भेंट चढ़ गया है और कोरोना की वजह से बकरीद की रौनक खत्म हो गई है. लगभग सभी मुस्लिम भाई चारे के लोग इंतेज़ामिया के ज़रिए जारी की गईं गाइडलाइन पर अमल करते हुए घरों में रहकर ही ईद मना रहे हैं और कुर्बानी पेश कर रहे हैं.

कोरोना को चलते मुल्कभर में सादगी से मनाई जा रही है ईद-उल-अज़हा
फोटो बशुक्रिया ANI

नई दिल्ली: इस साल हर त्योहार की तरह ईद उल अज़हा भी कोरोना के भेंट चढ़ गया है और कोरोना की वजह से बकरीद की रौनक खत्म हो गई है. लगभग सभी मुस्लिम भाई चारे के लोग इंतेज़ामिया के ज़रिए जारी की गईं गाइडलाइन पर अमल करते हुए घरों में रहकर ही ईद मना रहे हैं और कुर्बानी पेश कर रहे हैं. साथ ही कोई फिरकावाराना वारदात न हो इसके लिए इंतेज़ामिया ने भी सिक्योरिटी सख्त की हुई है. 

कुछ मकामात पर मस्जिदों में महज़ 4-5 लोगों ने ही ईद की नमाज़ अदा की है. हालांकि कुछ जगहों पर कसीर तादाद में लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग पर अमन करते हुए ईद उल अज़हा की नमाज़ अदा की है. दिल्ली की जामा मस्जिद समेत कई मसाजिदों में सोशल डिस्टेंसिंह के अलावा इंतेज़ामिया की जानिब से जारी की गईं गाइडलाइंस के मुताबिक नमाज़ अदा की गई है. 

इसके अलावा इस मौके पर सद्र जम्हूरिया और वज़ीरे आज़म ने भी मुस्लिम भाई चारे के लोगों को ईद की मुबारकबाद पेश की है. सद्र रामनाथ कोविंद ने ट्वीट करते हुए कहा है कि ईद मुबारक, ईद उल अज़हा, कुर्बानी के जज्बे की अलामत है जो हमें सब की फलाह व बेहबूद के लिए काम करने की तरगीब देती है. 

वहीं वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा कि ईद उल अज़हा पर मुबारकबाद, यह दिन हमें एक मुंसिफाना, हम आहंगी और जामा मुआशरे के कयाम की तरगीब दे, भाईचारे और हमदर्दी के जज़्बे को मज़ीद तकवियत मिले.

Zee Salaam LIVE TV