फरहत नकवी का मुनव्वर राना से सवाल, तीन तलाक की लड़ाई के वक्त कहां थीं आपकी बेटियां?

तीन तलाक की हजारों मुतास्सिर खवातीन अपने छोटे-छोटे बच्चों के साथ सड़कों पर थीं उस वक्त मुन्नवर राना या उनकी बेटियों ने कोई तबसिरा नहीं किया. आज जब उनकी बेटियों पर एफआईआर दर्ज हुई है, तब इन्हें कौम की बेटियों की फिक्र सताने लगी है.’

फरहत नकवी का मुनव्वर राना से सवाल, तीन तलाक की लड़ाई के वक्त कहां थीं आपकी बेटियां?

लखनऊ: शहरियत तरमीमी कानून के खिलाफ मुज़ाहिरे को लेकर मुनव्वर राना की बेटियों पर हुई एफआईआर के मामले ने तूल पकड़ लिया है. मुनव्वर राना तीन तलाक के बहाने योगी हुकूमत को घेर रहे हैं. इस पर तीन तलाक की जंग को मुकाम तक पहुंचाने वाली समाजी कारकून फरहत नक़वी ने उन्हें जवाब दिया है.

फरहत नक़वी ने कहा, ‘आज जब मुनव्वर राना की बेटियों पर एफआईआर दर्ज हुई है, तब वो बेटियों की बात कर रहे हैं. मैं यह पूछना चाहूंगी कि जब मुस्लिम खवातीन तीन तलाक का दर्द झेल रही थीं तब वो कहां थे? तीन तलाक की हजारों मुतास्सिर खवातीन अपने छोटे-छोटे बच्चों के साथ सड़कों पर थीं उस वक्त मुन्नवर राना या उनकी बेटियों ने कोई तबसिरा नहीं किया. आज जब उनकी बेटियों पर एफआईआर दर्ज हुई है, तब इन्हें कौम की बेटियों की फिक्र सताने लगी है.’

आपको बता दें कि, लखनऊ में वाके घंटाघर में शहरियत तरमीमी कानून और एनआरसी को लेकर हो रहे मज़ाहिरे में मशहूर शायर मुनव्वर राना की बेटियों समेत 159 के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज हुई है. बेटियों के खिलाफ एफआईआर पर मुनव्वर राना ने मीडिया के सामने आकर सरकार को वार्निंग दी थी. उन्होंने कहा था कि मुज़ाहिरीन पर पुलिस का रवैया बेहद गलत है.

मुनव्वर राना ने कहा था कि 'एक तरफ तो सरकार तीन तलाक के मामले में कहती है कि ये हमारी बेटियां हैं. दूसरी ओर जब वे अपना हक मांग रही हैं तो, कभी उन्हें कंबल नहीं दिया जाता, तो कभी खाना छीन लिया जाता है. मुनव्वर राना के इसी बयान पर फरहत नकवी ने ऐतराज जताते हुए सवाल उठाया है.