इस राज्य के CM और मंत्री Covid फंड में देंगे 1 महीने की सैलरी, कर्मचारियों का भी कटेगा वेतन

स्वास्थ्य विभाग के सचिव अमिताभ अवस्थी की तरफ से जारी आदेशों में कहा गया है कि कोरोना की दूसरी लहर से पैदा हुआ हैलात को देखते हुए सरकार मेडिकल संबंधी सुविधाओं और बुनियादी ढांचे को मजबूती करना चाहती है.

इस राज्य के CM और मंत्री Covid फंड में देंगे 1 महीने की सैलरी, कर्मचारियों का भी कटेगा वेतन
फाइल फोटो

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के चलते हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) सरकार का खजाना खाली हो गया है. हाल ही में जारी किए गए एक आदेश में कहा गया है कि सरकारी कर्मचारियों के वेतन से कटौती की जाएगी. आदेश के मुताबिक क्लास वन और क्लास 2 के कर्मचारियों की 2 दिन की सैलरी और जबकि क्लास 3 और 4 के कर्मचारियों की 1 दिन सैलरी काटी जाएगी. 

खास बात यह है कि रेगुलर वरकर्स के साथ-साथ अनुबंध पर लगे कर्मचारियों के वेतन से भी पैसे काटे जाएंगे. हालांकि मेडिकल डिपार्टमेंट से जुड़े क्लास वन और क्लास टू के अफसरों की एक दिन की सैलरी काटी जाएगी. इनके अलावा किसी भी अन्य हेल्थ वर्कर की तनख्वाह में कोई कटौती नहीं की जाएगी. 

यह भी पढ़ें: गुजरात की इस मस्जिद में हो रहा है कोरोना मरीज़ों का इलाज, लोग कर रहे हैं तारीफ

स्वास्थ्य विभाग के सचिव अमिताभ अवस्थी की तरफ से जारी आदेशों में कहा गया है कि कोरोना की दूसरी लहर से पैदा हुआ हैलात को देखते हुए सरकार मेडिकल संबंधी सुविधाओं और बुनियादी ढांचे को मजबूती करना चाहती है. आदेश में बताया गया है कि काटा गया वैतन हिमाचल प्रदेश कोविड-19 सॉलिडेरिटी रिस्पॉन्स फंड में जाएगा.

इसके पहले मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि वे खुद और उनके मंत्रीमंडल में मौजूद कैबिनेट मिनिस्टर एक महीने की तनख्वाह कोविड फंड में देंगे. बताया जा रहा है कि गुरुवार को होने जा रही कैबिनेट मीटिंग में मंत्री मुख्यमंत्री को चेक भेंट करेंगे.

यह भी पढ़ें: दिलीप कुमार के भतीजे ने कहा, जल्द काम न मिला तो हाथ फैलाना पड़ जाएंगे

बता दें कि पिछले साल भी राज्य की जयराम ठाकुर सरकार ने सभी विधायकों और कैबिनेट मेंबर्स की सैलरी से 30 फीसद की कटौती का फैसले लिया था. सरकार के उस समय के आदेश में कहा गया था कि कटौती 31 मार्च, 2021 तक लागू रहेगी. पिछले महीने यह तारीख गुजर जाने के बाद विधायकों और मंत्रियों के लिए पूरा वेतन दिए जाने के लिए विभाग ने कवायद शुरू की ही थी कि अब सरकार ने फिर फंड जमा करने के नए आदेश जारी कर दिए हैं.

ZEE SALAAM LIVE TV