वज़ीरे दाखिला अमित शाह ने शहीदों को किया सलाम, कहा- बयान नहीं किया जा सकता दर्द

वज़ीरे दाखिला ने कहा,लद्दाख की गालवान वादी में मातृभूमि की हिफाज़च करते हुए हमारे बहादुर फौजियों को खोने का दर्द लफ्ज़ों में बयान नहीं किया जा सकता.

वज़ीरे दाखिला अमित शाह ने शहीदों को किया सलाम, कहा- बयान नहीं किया जा सकता दर्द
फाइल फोटो

नई दिल्ली: हिंदुस्तान और चीन के दरमियान जारी कशीदगी वज़ीरे दाखिला अमित शाह बयान आया है साथ ही उन्होंने शहीद हुए जवानों के तईं दुख का इज़हार किया है. अमित शाह ने शहीदों को खिराजे अकीदत पेश करते हुए कहा है कि दुख कि इज़हार किया है. 

वज़ीरे दाखिला ने कहा,"लद्दाख की गालवान वादी में मातृभूमि की हिफाज़च करते हुए हमारे बहादुर फौजियों को खोने का दर्द लफ्ज़ों में बयान नहीं किया जा सकता. मुल्क हमारे अमर नायकों को सलाम करता है जिन्होंने हिंदुस्तानी इलाके को महफूज़ रखने के लिए अपनी ज़िदंगी की कुर्बानी पेश की है. उनकी बहादुरी हिंदुस्तान के तई पुरअज्म को ज़ाहिर करती है."

इससे पहले वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोद ने भी कहा है कि मैं मुल्क को यकीन दिलाना चाहता हूं कि हमारे जवानों की कुर्बानी बर्बाद नहीं जाएगी. हमारे लिए हिंदुस्तान की साल्मियत और खुदमुख्तारी सबसे पहले है और इसकी हिफाज़त करने से हमें कोई भी रोक नहीं सकता. हिंदुस्तान अमन चाहता है लेकिन हिंदुस्तान उकसाने पर हर हाल में मुनासिब जवाब देने में अहल है.

Zee Salaam Live TV