Global Hunger Index: भारत की हालत चिंताजनक, जानिए कैसे तैयार होती है रिपोर्ट

ग्लोबल हंगर इंडेक्स में सिर्फ 13 मुल्क ही ऐसे हैं जिनसे भारत आगे हैं. इनमें भी रवांडा, नाइजीरिया, अफगानिस्तान, लीबिया, मोजाम्बिक और चाड जैसे गरीब मुल्क शामिल हैं.

Global Hunger Index: भारत की हालत चिंताजनक, जानिए कैसे तैयार होती है रिपोर्ट
फाइल फोटो

नई दिल्ली/मुमताज़ खान: आबादी के मामले में दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा मुल्क है भारत और 130 करोड़ हिंदुस्तानी मिलकर कई शोबों में दुनिया को पीछे छोड़ रहे हैं लेकिन इन सबके बीच ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2020 की रिपोर्ट ने भारत को बड़ा झटका दिया है. इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत की करीब 14% आबादी कुपोषण का शिकार है. 

ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2020 की रिपोर्ट में भारत अपने कई पड़ोसी मुल्कों से भी पीछे है. यानी इस रिपोर्ट के मुताबिक़ अब 'भूख' से लड़ेगा इंडिया? ग्लोबल हंगर इंडेक्स 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक 107 मुमालिक की लिस्ट में 94 पायदान पर भारत है. हंगर इंडेक्स में कई पड़ोसी मुल्कों से पीछे है भारत. जिनमें नेपाल, श्रीलंका, म्यामांर, बांग्लादेश हमसे बेहतर हालत में हैं. इतना ही नहीं पाकिस्तान और इंडोनेशिया भी भारत से बेहतर हालत में हैं इस मामले में.

ग्लोबल हंगर इंडेक्स में सिर्फ 13 मुल्क ही ऐसे हैं जिनसे भारत आगे हैं. इनमें भी रवांडा, नाइजीरिया, अफगानिस्तान, लीबिया, मोजाम्बिक और चाड जैसे गरीब मुल्क शामिल हैं. ग्लोबल हंगर इंडेक्स की रिपोर्ट में 27.2 स्कोर के साथ भारत में भूख की हालत को 'संजीदा' बताया गया है. 

रिपोर्ट के मुताबिक़ भारत की करीब 14% आबादी कुपोषण (ग़िज़ाईयत) की कमी की शिकार है यानि 14 फीसद लोगों को पेट भर खाना नसीब नहीं है. ये रिपोर्ट जारी होने के बाद हिज्बे इख्तेलाफ़ ने सरकार पर निशाना साधा है. राहुल गांधी ने ट्वीट में कहा कि भारत का गरीब भूखा है क्योंकि सरकार सिर्फ़ अपने कुछ ख़ास ‘दोस्तों’की जेबें भरने में लगी है.

कैसे तैयार होती हा ग्लोबल हगर इंडेक्स
किसी मुल्क में कुपोषण की कमी के शिकार बच्‍चों के ratio, पांच साल से कम उम्र वाले बच्‍चे जिनका वजन या लंबाई उम्र के हिसाब से कम है और पांच साल से कम उम्र वाले बच्‍चों में death rate यानी मौत की शरह की बुनियाद पर तैयार की जाती है.

भारत में भूख की हालत के बीच राहत देने वाली बात ये है कि ग्लोबल हंगर इंडेक्स मे भारत की रैकिंग पिछली बार से सुधरी है. पिछली बार 117 मुल्कों की लिस्ट में भारत की रैंकिंग 102 थी लेकिन अभी भी चैलेंज बहुत बड़ा है. कोशिश इस बात की होनी चाहिए मुल्क में हर शख़्स को भर पेट खाना मिले.

Zee Salaam LIVE TV