J&K: दहशतगर्दों के मददगार DSP देवेंद्र सिंह से वापस लिया गया गैलेंट्री अवॉर्ड, नौकरी भी जाएगी

दहशतगर्दों के बीच मिली भगत के मामले में गिरफ्तार हुए जम्मू-कश्मीर के DSP देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) से गैलेंट्री अवॉर्ड वापस ले लिया गया है. जम्मू कश्मीर हुकूमत ने कहा है कि डीएसपी देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) से गैलेंट्री अवॉर्ड वापस लिया जाता है

J&K: दहशतगर्दों के मददगार DSP देवेंद्र सिंह से वापस लिया गया गैलेंट्री अवॉर्ड, नौकरी भी जाएगी

श्रीनगर: दहशतगर्दों के बीच मिली भगत के मामले में गिरफ्तार हुए जम्मू-कश्मीर के DSP देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) से गैलेंट्री अवॉर्ड वापस ले लिया गया है. जम्मू कश्मीर हुकूमत ने कहा है कि डीएसपी देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) से गैलेंट्री अवॉर्ड वापस लिया जाता है. साथ ही जम्मू कश्मीर पुलिस ने देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) को खिदमात मु्अत्तली की भी सिफारिश की है.

जराये का कहना है कि एनआई जैसे ही देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) को हिरासत में लेगी वैसे ही देवेंद्र की जम्मू कश्मीर पुलिस से मुअत्तली मान ली जायगी.डीएसपी देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) के माज़ी को खुफिया एजेंसियां खंगालने वाली हैं. सनीचर के रोज़ देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) की गिरफ्तारी के बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस ने वज़ारते दाखला को गिरफ्तारी की जानकारी दी और दाखला सेक्रेटरी को कुलगाम तसादुम के बारे में इत्तेला दी गई.

देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) जम्मू-कश्मीर पुलिस के इंसदादे दहशतगर्दी की खास टीम (एसओजी) में एक सब-इंस्पेक्टर के तौर पर शामिल हुए थे और वह वीरता के लिए मुमताज पुलिस मैडल हासिल करने के साथ डीएसपी रैंक पर तेजी से पहुंचे. उन्हें यह बहादुरी का एज़ाज़ इंसदादे दहशतगर्दाना ड्यूटी के लिए मिला. देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) से अब खुफिया ब्यूरो, रिसर्च एंड एनालिसिस विंग व मिलिट्री इंटेलीजेंस टीम पूछताछ करेगी. ज़राये ने कहा कि देवेंद्र सिंह (Devinder Singh) से उनका राष्ट्रपति वीरता मैडल एज़ाज़ लिया जा सकता है. इस अमल पर गौर किया जा रहा है.