JNU में लगाए गए जिन्ना के पोस्टर, सावरकर के नाम पर पोती स्याही

गुज़िश्ता पीर की रात कुछ ग़ैर समाजी अन्सर ने कैंपस के अंदर विनय दामोदर सावरकर मार्ग के साइन बोर्ड पर सफेद पेंट से बीआर अम्बेडकर मार्ग लिख दिया गया था

JNU में लगाए गए जिन्ना के पोस्टर, सावरकर के नाम पर पोती स्याही

राजू राज/नई दिल्ली: दिल्ली की जवाहर लाल यूनिवर्सिटी एक बार चर्चा का मोज़ू बन गई है, दरअसल इस बार कैंपस में जिन्ना के पोस्टर लगाए गए हैं. गुज़िश्ता पीर की रात कुछ ग़ैर समाजी अन्सर ने कैंपस के अंदर विनय दामोदर सावरकर मार्ग के साइन बोर्ड पर सफेद पेंट से बीआर अम्बेडकर मार्ग लिख दिया गया था. वहीं कुछ देर बाद उस पर कालिख पोतकर जिन्ना के पोस्टर लगा दिए. सुबह होने पर जिन्ना की तस्वीर को वहां से हटाकर वापस पेंट से अम्बेडकर मार्ग लिख दिया गया.

इस मामले में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के सद्र शिवम चौरसिया का कहना है ग़ैर समाजी अन्सर के ज़रिए यह बेहद शर्मनाक हरकत की गई है. हम कॉलेज एडमिन से पूरी जांच की मांग करते हैं. इस वारदात में कौन-कौन शामिल है इसका खुलासा अभी तक नहीं हो पाया है. वहीं पुलिस का कहना है कि उन्हें इस से मुतअल्लिक अभी तक कोई शिकायत नहीं मिली है.

बता दें कि कुछ वक्त पहले ही जेएनयू इंतेज़ामिया ने कैंपस के अंदर की एक सड़क को विनय दामोदर सावरकर मार्ग नाम दिया गया था. कैंपस के इस फैसले पर तलबा ने ऐतराज़ ज़ाहिर की थी. वहीं जेएनयू तलबा यूनियन की सद्र आईशी घोष ने भी इसकी मज़म्मत करते हुए ट्वीट कर जेएनयू इंतेज़ामिया को आड़े-हाथ लिया था लेकिन जेएनयू इंतेज़ामिया अपने फैसले पर कायम रही और रोड के नाम में कोई तब्दीली नहीं की.