लॉकडाउन का नियम तोड़ने वालों को कानपुर पुलिस ने सिखाया सबक,लोगों को बनाया मुर्गा

शहर में लॉक डाउन को संजीदगी से नहीं लेने वालों का इंतेजामिया ने अलग-अलग तरीकों से सख्ती बरती जिस दौरान बर्रा बाईपास चौराहे पर सीओ ने युवाओं को हाथ खड़ा कर घर से बाहर ना निकलने का हलफ़ दिलाई

लॉकडाउन का नियम तोड़ने वालों को कानपुर पुलिस ने सिखाया सबक,लोगों को बनाया मुर्गा

संकल्प दुबे/ कानपुर : पीएम मोदी ने 19 मार्च को कौम के नाम खिताब कर आवामी कर्फ्यू की पासदारी की थी और आवाम ने पीएम मोदी की इस मुहिम का पूरा साथ दिया था.कोरोना से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग से बचने के लिए कई रियासतों ने लॉक डाउन का ऐलान किया बावजूद इसके कई लोगों ने लॉक डाउन को संजीदगी से नहीं लिया और  बिना किसी ज़रूरी काम के सड़कों पर दिखाई दिए.जिसके बाद इंतेजामिया ने सख्त रवैया अपनाते हुए कार्रवाई शुरू की. इतना ही नहीं नियमों को तोड़ने वालों को पुलिस ने बीच सड़क पर ही उठक-बैठक लगवाई.

कोई बना मुर्गा तो कई लोगों को ऐसा नहीं करने की लिया हलफ़

शहर में लॉक डाउन को संजीदगी से नहीं लेने वालों का इंतेजामिया ने अलग-अलग तरीकों से सख्ती बरती जिस दौरान बर्रा बाईपास चौराहे पर सीओ ने युवाओं को हाथ खड़ा कर घर से बाहर ना निकलने का हलफ़ दिलाई. पुलिस को घुमक्कड़ों से निपटने के लिए सख्त रवैया अख्तियार करने का आदेश दिया गया है. वहीं जाजमऊ चेकपोस्ट पर काम के लिए निकलने वालों को सड़क पर मुर्गा बनाकर बाहर न निकलने की चेतावनी दी गई. 

अब तक 915 लोगों के खिलाफ हुई कार्रवाई

सोम और मंगल को जहां शहर की कई सड़क, बाजारों और अन्य इलाकों में भीड़ उमड़ी थी जिसके बाद पुलिस इंतेजामिया के ऑफिसर्स ने आज से लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराया जिसके तहत अब तक 3024 वाहनों के चालान किए गए. वहीं 72 वाहनों को सीज किया गया. वही धारा 144 के नियम तोड़ने वालों के खिलाफअब तक 164 मुकदमे दर्ज किए गए हैं. कुल 915 लोगों पर कार्रवाई की गई है.