एशिया के सात यादगारों में शामिल हुआ कश्मीर का बुर्ज़ाह्मा, देखिए हैरान कर देने वाली तस्वीरें

आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (ASI) ने बुर्ज़ाह्मा को तारीखी यादगार के जुमरे में शामिल किया है. आसार ए क़दीमा ने इसे एशिया के सात यादगारों में जगह दी है.  इस मकाम की कई दफा खुदाई हो चुकी है.

एशिया के सात यादगारों में शामिल हुआ कश्मीर का बुर्ज़ाह्मा, देखिए हैरान कर देने वाली तस्वीरें

श्रीनगर/शोकत बेग: आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (ASI) ने बुर्ज़ाह्मा को तारीखी यादगार के जुमरे में शामिल किया है. आसार ए क़दीमा ने इसे एशिया के सात यादगारों में जगह दी है. 

इस मकाम की कई दफा खुदाई हो चुकी है. यहां से दस्तायब अशिया की बुनियाद पर ये कयास लगाया जाता है कि कशमीर के तारीखी आसार का जमाना तीन हजार कब्ल ए मसीह का है. 

खुदाई में मिली चीजों से कश्मीरी सकाफत का ताल्लुक वस्त एशिया तक से जुड़ता है. खुदाई से मिली चीजों से उस दौर के कश्मीरी फनून का भी पता चलता है.

Image preview

समुद्र की सतह से 54 सौ फीट की बुलंदी पर मौजूद इस इलाके को ASI ने महफूज इलाके के जुमरे में रखा है. यहां मजीद खुदाई के साथ साथ अंदरूनी इलाके में आम लोगों के दाखले पर पाबंदी आयद कर रखी है. 

Zee Salaam LIVE TV