निर्भया के मजरिम मुकेश को झटका, LG ने रहम की अर्ज़ी खारिज करने की सिफारिश आगे भेजी

नई दिल्ली: निर्भया इजतमाई इस्मतदरी और कत्ल मामले (Nirbhaya case) के मजरिम मुकेश सिंह (Mukesh Singh) को एक और झटका लगा है. उसकी रहम की आर्ज़ी खारिज करने की सिफारिश नायब गवर्नर (LG) अनिल बैजल  (Anil Baijal) ने वजारते दाखला को भेज दी है.

निर्भया के मजरिम मुकेश को झटका, LG ने रहम की अर्ज़ी खारिज करने की सिफारिश आगे भेजी

नई दिल्ली: निर्भया इजतमाई इस्मतदरी और कत्ल मामले (Nirbhaya case) के मजरिम मुकेश सिंह (Mukesh Singh) को एक और झटका लगा है. उसकी रहम की आर्ज़ी खारिज करने की सिफारिश नायब गवर्नर (LG) अनिल बैजल  (Anil Baijal) ने वजारते दाखला को भेज दी है. 

इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट ने बुध को मुकेश की अर्ज़ी को ख़ारिज कर दिया था. इस मामले में मुकेश ने हाईकोर्ट में अर्ज़ी दाखिल कर निचली अदालत के डेथ वारंट को ख़ारिज करने का मतालबा किया था.जस्टिस मनमोहन और संगीता ढींगरा सहगल की सदारत वाली अदालत की एक बेंच ने अर्ज़ी दाहिंदा के वकील से ट्रायल कोर्ट का दरवाजा खटखटाने और ट्रायल कोर्ट को सात जनवरी के हुक्म के बाद हाल ही में हुये सिलसिला-ए-वाक्यात से आगाह कराने को कहा. बेंच ने कहा, 'रहम की अर्ज़ी ज़ेरे इल्तिवा होने के बारे में ट्रायल कोर्ट को बताएं.' मुकेश की जानिब से पेश वकील रेबेका जॉन और वृंदा ग्रोवर ने कहा कि वे बहुत जल्द पटियाला हाउस कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे.

क्यूरेटिव अर्ज़ी भी हो चुकी है ख़ारिज
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार (14 जनवरी) को निर्भया इजतमाई इस्मतदरी और कत्ल मामले के मुजरिमीन विनय कुमार और मुकेश के ज़रिये दाखिल की गई अर्जियों को खारिज कर दिया था.  इन मजरिमीन ने ट्रायल कोर्ट जरिये दी गई मौत की सज़ा पर सवाल उठाते हुए अर्ज़ियाँ खारिज की थीं. ट्रायल कोर्ट के ज़रिये दी गई मौत की सज़ा को बाद में हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट ने भी बरकरार रखा था.