केरल का लिटिल मैसी: दानिश की कार्नर किक ने इंटरनेट पर मचाई सनसनी

 इस 10 साल के पीके दानिश के वीडियों ने इंटरनेट पर सनसी मचा दी है क्योंकि फूटबाल में कॉर्नर से किक गोल दाग़ना बेहद मुश्किल काम होता है अगर कभी कभार ऐसा हुआ तो अक्सर कॉर्नर किक पर कोई दुसरा खिलाड़ी हेडर के ज़रिये ही गोल कर पाता है लेकिन दानिश ने एक ही किक में गोल कर दिया.

केरल का लिटिल मैसी: दानिश की कार्नर किक ने इंटरनेट पर मचाई सनसनी

केरल: 5वीं जमाअत में पढ़ने वाले एक तालिबे इल्म नें ऐसा कारनामा कर दिखाया है जिसे करने के लिए बड़े-बड़े खिलाड़ी अपने पसीने बहाते रहते हैं लेकिन फिर भी वो यह कारनामा कर पाने में बहुत कम ही खिलाड़ी कामयाब  हो पाते हैं. दरअसल फुटबॉल के खेल में ज़ीरो एंगल से गोल करना बेहद मुश्किल काम है और ये काम दुनिया भर में चुनिंदा खिलाड़ियों ने ही किया, लेकिन इस 10 साल के पीके दानिश के वीडियों ने इंटरनेट पर सनसी मचा दी है क्योंकि फूटबाल में कॉर्नर से किक गोल दाग़ना बेहद मुश्किल काम होता है अगर कभी कभार ऐसा हुआ तो अक्सर कॉर्नर किक पर कोई दुसरा खिलाड़ी हेडर के ज़रिये ही गोल कर पाता है लेकिन दानिश ने एक ही किक में गोल कर दिया और इस वीडियो को हिंदुस्तानी फुटबॉल टीम के साबिक कप्तान एम विजयन ने भी शेयर किया है और लिखा है, शानदार बेटा.

ऐसे ही हैरत अंगेज़ किक को देखने के लिए फूटबाल के मद्दाह स्टेडियम में जाकर घंटो इंतजार करते हैं. उसके बावजूद ऐसा किक देखने को मिले इसकी कोई गारंटी नहीं होती लेकिन एक रियासती सतह के टूर्नामेन्ट में कर दिखाया केरल के इस होनहार फूटबालर ने. गुज़िश्ता 9 फरवरी को केरल फुटबॉल के ऑल कलर किड्स टूर्नामेंट में दानिश ने वैसा ही गोल मारा, जिसे डेविड बेकहम, थियरी हेनरी और रोनाल्डिन्हो जैसे दिग्गज फुटबॉलर लगा चुके हैं, अगर आपको फुटबॉल पसंद है तो रोनान्डिन्हो का वर्ल्ड कप 2002 में इंग्लैंड के खिलाफ़ दाग़ा गया गोल आपको याद होगा, जहां खूबसूरती से घूमते हुए गेंद गोलपोस्ट में समा जाती है.

अपने बेटे के इस कारनामे से उसकी वालिदा भी बेहद खुश है और उनका है कि दानिश एक दिन रोनाल्डिन्हो जैसा फुटबॉलर बने. इसी शानदार किक की वजह से दानिश को लियोनल मेस्सी का खिताब दिया गया. साथ ही उसे प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट भी मुन्तख़ब किया गया. टूर्नामेंट में 13 गोल दाग़ने वाले दानिश को उसके कोच भी मुस्तकबिल का बेहतरीन खिलाड़ी बता रहे हैं.