चंदौली: परिवारिक झगड़े के चलते मां ने 3 बच्चों के साथ ट्रेन से कटकर दी जान

पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लाशों की शिनाख्त के बाद पड़ताल की तो पता चला कि सभी सैयदराजा कोतवाली के सुदाव गांव के रहने वाले थे.

चंदौली: परिवारिक झगड़े के चलते मां ने 3 बच्चों के साथ ट्रेन से कटकर दी जान

चंदौली: पंडित दीन दयाल उपाध्याय-गया रेल रूट पर एक खातून और तीन बच्चों की लाश मिलने के बाद इंतेज़ामिया में हड़कंप मच गया. इस मौत की गुत्थी को मुहाजिर मज़दूरों और कत्ल से जोड़कर देखा जा रहा था. पुलिस ने मामले को सुलझाते हुए खुदकुशी बताया है. महिला ने परिवारिक झगड़े से तंग आकर अपने बेटे और दो बेटियों के साथ रेलवे ट्रैक पर जान दे दी.

चंदौली जिला हेडक्वार्टर के जगदीश सराय में गोबरहा गांव के पास मां और बच्चों की लाश मिलने के बाद इलाके में सनसनी फैल गई थी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लाशों की शिनाख्त के बाद पड़ताल की तो पता चला कि सभी सैयदराजा कोतवाली के सुदाव गांव के रहने वाले थे. मंगल देर शाम सभी सुदाव से हिनौता गांव पहुंचे. यहां मां अपने तीनों बच्चों के साथ रेलवे ट्रैक पर जान देने के लिए सोई और सामने से आई मालगाड़ी से कटकर उनकी मौत हो गई. 

एसपी हेमंत कुटियाल ने बताया कि खुदकुशी की जगह से एक टूटा-फूटा मोबाइल भी मिला, जिससे इस पूरे मामले का खुलासा हुआ. खातून का नाम प्रेमशीला था और बरामद हुआ मोबाइल उसके बेटे का है. पुलिस ने सिमकार्ड की बुनियाद पर जब नंबर ट्रेस किया, तब जाकर ये पूरा मामला सामने आया. 

Zee Salaam Live Tv