BJP मंत्री ने महंगाई के लिए नेहरू को बताया जिम्मेदार, बोले- 1947 के भाषण से बिगड़ी अर्थव्यवस्था

विश्वास सारंग ने कहा कि कहा कि दूसरी ओर वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी ने पिछले सात सालों में मुल्क की अर्थव्यवस्था को मजबूत किया है.

BJP मंत्री ने महंगाई के लिए नेहरू को बताया जिम्मेदार, बोले- 1947 के भाषण से बिगड़ी अर्थव्यवस्था
Vishvas Sarang, File Photo

भोपाल: मध्यप्रदेश की बीजेपी हुकूमत के एक वज़ीर ने शनिवार को कहा कि महंगाई की समस्या एक या दो दिन में नहीं पैदा होती. उन्होंने आगे कहा कि 15 अगस्त 1947 को लाल किले से जवाहरलाल नेहरू के दिए गए भाषण की गलतियों से मुल्क की अर्थव्यवस्था पटरी से उतर गई.

प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग मुल्क में बढ़ती महंगाई और कीमतों पर कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन करने पर अपने रद्देअमल का इजहार कर रहे थे. भोपाल में पत्रकारों से बात करते हुए सारंग ने कहा, 'मुल्क की आजादी के बाद अर्थव्यवस्था को पंगु बना कर महंगाई बढ़ाने का क्रेडिट अगर किसी को जाता है तो वह नेहरू परिवार है. महंगाई एक-दो दिन में नहीं बढ़ती. अर्थव्यवस्था की नींव एक-दो दिन में नहीं रखी जाती है. 15 अगस्त 1947 को लाल किले के फसील से (पहले वज़ीरे आज़म) जवाहरलाल नेहरू द्वारा दिए गए भाषण की गलतियों की वजह से मुल्क की अर्थव्यवस्था बिगड़ गई.

ये भी पढ़ें: BJP सांसद बाबुल सुप्रियो ने सियासत को कहा अलविदा, दूसरी पार्टी ज्वाइन करने को लेकर कही ये बात

उन्होंने कहा कि दूसरी ओर वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी ने पिछले सात सालों में मुल्क की अर्थव्यवस्था को मजबूत किया है. सारंग ने कहा कि बीजेपी हुकूमत ने गरीबों के कल्याण और अर्थव्यवस्था में उनकी भागीदारी के लिए योजनाएं शुरू की हैं जबकि कांग्रेस के शासन के दौरान अर्थव्यवस्था कुछ सनअतकारों के हाथ में थी.

मंत्री ने दावा किया कि बीजेपी की हुकूमत के दौरान महंगाई कम हुई है और लोगों की आमदनी बढ़ी है. उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं को 10 जनपथ (कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का आवास) के सामने विरोध प्रदर्शन करना चाहिए.

वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस नेताओं ने सारंग की टिप्पणी का मज़ाक उड़ाया. प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता के के मिश्रा ने कहा, 'शिवराज (मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान) सर्कस के योग्य मंत्री विश्वास सारंग 1947 में नेहरू के भाषण को मुल्क की महंगाई के लिए जिम्मेदार ठहरा रहे हैं, तब सारंग का जन्म भी नहीं हुआ था. विभाग के मंत्री के तौर पर क्या सारंग बता सकते हैं कि कोरोना महामारी के दौरान बिस्तरों, ऑक्सीजन और रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कमी की वजह से हुई हजारों लोगों की मौत के लिए भी क्या नेहरू जिम्मेदार थे?'

ये भी पढ़ें: JDU के इस दिग्गज नेता को मिली पार्टी की कमान, RCP Singh की लेंगे जगह

कांग्रेस के एक दूसरे प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने कहा कि मध्यप्रदेश में भाजपा का मंत्रालय अजीबो गरीब लोगों से भरा है. उन्होंने कहा, 'एक मंत्री मरम्मत के लिए बिजली के खंभे पर चढ़ जाता है, एक मंत्री कहता है कि एक जोड़े को कितने बच्चे होने चाहिए तो एक मंत्री कहता है कि सेल्फी लेने के लिए उसे पैसे चाहिए और अब एक मंत्री 75 साल पहले दिए गए भाषण को आज की महंगाई के लिए जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.' उन्होंने सवाल किया कि फिर भाजपा ने अपने चुनाव प्रचार में महंगाई से राहत देने का वादा जनता से क्यों किया?
(इनपुट- भाषा)

Zee Salaam Live TV: