अब पालतू कुत्ते-बिल्लियों का भी होगा अंतिम संस्कार, इस शहर में बनने जा रहा है श्मशान

इस श्मशान की तामीर 700 वर्ग मीटर इलाके में द्वारका में होगी. एसडीएमसी इस प्रोजेक्ट को जल्द ही अंतिम मंजूरी देने के बाद टेंडर निकालेगी. 

अब पालतू कुत्ते-बिल्लियों का भी होगा अंतिम संस्कार, इस शहर में बनने जा रहा है श्मशान
Image used for representational purpose

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में अब पालतू कुत्ते-बिल्लियों के लिए श्मशान बनेगा. यह फैसला जनूबी (दक्षिण) दिल्ली नगर निगम (SDMC) ने लिया है. इस श्मशान में लोग अपने पेट्स की आखिरी रसूमात को अंजाम दे सकेंगे. उनकी अस्थियों को 15 दिनों तक महफूज़ रखा जाएगा. एसडीएमसी का कहना है कि लोग को अपने पेट्स के साथ जज़्बाती तौर पर जुड़े होते हैं. यह श्मशान घाट उनके जज़्बात को इज्ज़त देने के लिए बनाया जा रहा है.

यह भी पढ़ें: मां-बाप की इन हरकतों की वजह से सलाखों के पीछे पहुंच गया महज़ 11 महीने का बच्चा

इस श्मशान की तामीर 700 वर्ग मीटर इलाके में द्वारका में होगी. एसडीएमसी इस प्रोजेक्ट को जल्द ही अंतिम मंजूरी देने के बाद टेंडर निकालेगी. सरकारी और निजी इलाके के तआवुन (सहयोग) से यानी पीपीपी मॉडल से यह श्मशान तैयार होगा.

यह भी पढ़ें: दुश्मन से रिश्ते सुधारना चाहता है पाकिस्तान, इजराइली नेताओं के साथ की खुफिया मीटिंग?

जनूबी दिल्ली नगर निगम के एक अफसर ने कहा, ''जब किसी पालतू जानवर की मौत होती है तो इसका दुःख परिवार के किसी मेंबर को खोने के समान ही होता है. हम चाहते हैं कि ऐसे जानवरों की भी आखिरी रसूमात गरिमापूर्ण तरीके से हो सके. इसलिए, हमने इसके लिए प्रावधान बनाने को कहा है.'' 

यह भी पढ़ें: हज 2021: 45 सीटर बस में बैठेंगे सिर्फ 15 लोग, गर्भवती महिलाओं समेत इन लोगों पर रहेगी पाबंदी

इस श्मशान में एक पुजारी होगा, जो किसी मुर्दा पालतू जानवर की आखिरी रसूमात रिवायती तरीके से कराएगा. वेटरनरी डिपार्टमेंट के अफसर ने कहा कि लोग अपने पेट्स की अस्थियां नदियों में विसर्जित करना चाहते हैं, इसलिए इस भावना को भी ध्यान में रखा जाएगा. श्मशान में दाह संस्कार के बाद 15 दिन अस्थियों को रखने का प्रोविज़न होगा. 

यह भी पढ़ें: Kangana Ranaut ने शाहीन बाग की दादी को लेकर कही थी ये बात, मिला प्यारा जवाब

इस साल अक्टूबर में जनूबी दिल्ली नगर निगम की मुस्तिकल कमेटी (स्थाई समिति) ने शहर में इस तरह की पहली इकाई में पालतू और आवारा कुत्तों का आखिरी रसूमात के लिए किए जाने वाले अदायगी की रकम तय की थी. इसमें तय हुआ था कि लोगों को 30 किलोग्राम तक के पालतू जानवरों की आखिरी रसूमात के लिए 2000 रुपये और 30 किलोग्राम से ज्यादा के पेट्स के लिए 3,000 रुपये अदा करने होंगे. 

यह भी पढ़ें: Sana Khan ने मां बनने के सवाल पर कही बड़ी बात, ट्रोलर्स को भी दिया करारा जवाब

हालांकि, एसडीएमसी के मुताबिक इस श्मशान में आवारा कुत्तों की आखिरी रसूमात मुफ्त में की जा सकेगी. भले ही इसकी तामीर जनूबी दिल्ली नगर निगम की तरफ से कराई जा रहा हो लेकिन दिल्ली में रहने वाले सभी लोग यहां अपने पालतू जानवरों की आखिरी रसूमात करा सकेंगे.

यह भी देखें: हिरण को दबोच कर चीता कर रहा था मां का इंतजार फिर हुआ कुछ ऐसा, देखिए VIDEO

Zee Salaam LIVE TV