कैराना के शहनवाज़ ने जीती कोरोना से जंग, ठीक होने पर डॉक्टरों ने फूल बरसाकर किया इस्तकबाल

कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के बीच कैराना से एक राहत भरी खबर आ रही है. दरअसल यहां पर एक मरीज़ ने 15 दिनों के बाद कोरोना जैसी जानलेवा बीमारी को शिकस्त दे दी है.

कैराना के शहनवाज़ ने जीती कोरोना से जंग, ठीक होने पर डॉक्टरों ने फूल बरसाकर किया इस्तकबाल
फाइल फोटो...

श्रवण/ कैराना: कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते मामलों के बीच कैराना से एक राहत भरी खबर आ रही है. दरअसल यहां पर एक मरीज़ ने 15 दिनों के बाद कोरोना जैसी जानलेवा बीमारी को शिकस्त दे दी है. शख्स के ठीक होने पर सीएमओ ने उसका फूल देकर इस्तकबाल किया है, वहीं डॉक्टरों ने भी शख्स का फूल बरसाकर इस्तकबाल किया है. 
कैराना के अंसारियान निवासी शाहनवाज़ गुज़िश्ता 15 दिन पहले दुबई से लौटे थे. जांच के बाद उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी. जिसके बाद डॉक्टरों ने पूरे परिवार को आइशोलेशन वार्ड में दाखिल करा दिया था लेकिन आज 15 दिन बाद शाहनवाज़ पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं. जांच में उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है. रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद अस्पताल ने शहनवाज़ को कोरोना वायरस से मुक्त का ऐलान कर दिया और उनको छुट्टी दे दी.

Zee Salaam Live TV

कोरोना से डरे नहीं, मोहतात रहें
कोरोना वायरस को शिकस्त देकर घर लौटे शाहनवाज़ ने कोरोना से लड़ने की पूरी कहानी शेयर की है. शाहनवाज़ ने बताया कि कोरोना वायरस पॉजिटिव पाये जाने के बाद उनको और उनके परिवार को आइसोलेशन वार्ड में दाखइल किया गया था. जहां पर मेहकमा सेहत ने बहुत ही अच्छी तरह देखभाल की और वक्त पर दवाई दी जिसके बाद वो ठीक हो गये. कोरोना वायरस को लेकर शाहनवाज़ ने कहा कि इस महामारी से लोगों को डरने की नहीं, बल्कि मोहतात रहने की ज़रुरत है. इसके अलावा उन्होंने लोगों से कहा कि अगर किसी को भी नज़ला, खांसी व बुखार है तो फौरन मेहकमा सेहत से राब्ता करे और अपनी जांच कराए ताकि इस बीमारी को हिंदुस्तान से पूरी तरह भगाया जा सके.

शाहनवाज़ के ठीक होने पर महकमा सेहत समेत ज़िला इंतेज़ामिया ने राहत की सांस ली है. शाहनवाज़ को जब एंबुलेंस उनके घर छोड़ने गई तो मोहल्ले वासियों में खुशी की लहर दौड़ गई. गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से मुतास्सिर लोगों की तादाद में लगातार इज़ाफा हो रहा है. अब तक रियासत में इस महामारी से मुतास्सिर लोगों की तादाद बढ़कर 314 हो गई है.