पाकिस्तान को एक बार फिर दुनिया के अव्वलीन मंच मिली शिकस्त, 10 ताकतवर मुमलिक ने दिया 'भारत का साथ'

कश्‍मीर मुद्दे (Kashmir Issue) पर एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) की दुनिया के आला मंच इकवामे मुत्तहिदा में किरकिरी हुई है. इकवामे मुत्तहिदा सिक्योरिटी कौंसिल (UNSC) में इस मुद्दे को उठाने चीन की तरफ से रखी गए इस तजवीज़ को दुनिया के 10 ताकतवर मुमालिक ने सिरे से खारिज कर दिया और साफ कह दिया कि अब इस मामले को उठाने की कोई ज़रूरत नहीं है. चीन ने यूएनएससी में एनी अदर बिजनेस (AOB) के तहत पाकिस्‍तान की अपील पर कश्मीर मुद्दे पर क्लोज डोर मीटिंग की तजवीज़ रखी थी. 

पाकिस्तान को एक बार फिर दुनिया के अव्वलीन मंच मिली शिकस्त, 10 ताकतवर मुमलिक ने दिया 'भारत का साथ'
फाइल फोटो...

नई दिल्‍ली : कश्‍मीर मुद्दे (Kashmir Issue) पर एक बार फिर पाकिस्तान (Pakistan) की दुनिया के आला मंच इकवामे मुत्तहिदा में किरकिरी हुई है. इकवामे मुत्तहिदा सिक्योरिटी कौंसिल (UNSC) में इस मुद्दे को उठाने चीन की तरफ से रखी गए इस तजवीज़ को दुनिया के 10 ताकतवर मुमालिक ने सिरे से खारिज कर दिया और साफ कह दिया कि अब इस मामले को उठाने की कोई ज़रूरत नहीं है. चीन ने यूएनएससी में एनी अदर बिजनेस (AOB) के तहत पाकिस्‍तान की अपील पर कश्मीर मुद्दे पर क्लोज डोर मीटिंग की तजवीज़ रखी थी. 

दरअसल, इस तजवीज़ के लिए गुजिश्ता साल 24 दिसंबर की तारीख़ तय की गई थी, लेकिन किन्‍ही वुजूहात से यह मीटिंग नहीं हो पाई. इस तजवीज़ का यूएनएससी के मुस्तकिल रकुन फ्रांस, अमेरिका, ब्रिटेन और रूस समेत 10 अरकान ने मुखालिफत की और साफ कह दिया कि यह मामला अब यहां उठाने की ज़रूरत नहीं है. इस तरह यह पाकिस्‍तान की तरफ से चीन के ज़रिये यह मुद्दा उठाने को लेकर हिमायत हासिल करने की कोशिश फिर नाकाम हो गई और उसे सिर्फ अपने दोस्त चीन का ही साथ मिला.

यूएन में भारत के मुस्तकिल नुमाइंदे सैयद अकबरुद्दीन ने कहा, जिसकी हमें उम्मीद थी, वही आज हुआ. आज यूएन में पकिस्तान के झूठे दावों का पर्दाफाश हो गया. हमें ख़ुशी है कि हमारे कई दोस्तों ने हमारा साथ दिया और कहा कि यह एक दोतरफा मामला है. अपनी खामियों को छुपाने के लिए पाकिस्तान का झूठ बोलने का सिलसिला आज ख़त्म हो गया. हमें उम्मीद है कि पाकिस्तान आज से कुछ सीखेगा और भारत से सही बर्ताव करेगा.