कोरोनिल दवा को लेकर फंसे बाबा रामदेव, दिल्ली हाई कोर्ट पहुंचा मामला

बता दें योग गुरु बाबा रामदेव ने कोरोना की आयुर्वेदिक दवा बताकर 'कोरोनिल' को लॉन्च किया था. उन्होंने कोरोनिल (CORONIL) टेबलेट से कोरोना के मरीजों के ठीक होने का दावा किया है.

कोरोनिल दवा को लेकर फंसे बाबा रामदेव, दिल्ली हाई कोर्ट पहुंचा मामला
फाइल फोटो

नई दिल्ली: पतंजलि की तरफ से बनाई गई कोरोना की दवा कोरोनिल का मामले थमने का नाम नहीं ले रहा है. इस मामले में पतंजलि आयुर्वेद के सीईओ आचार्य बाल कृष्ण और तीन दीगर लोगों के खिलाफ कोरोना को ठीक करने का दावा करने के मामले में दिल्ली हाई कोर्ट में अर्ज़ी दाखिल की गई है. 

अर्ज़ी में कहा गया है आईसीएमआर और आयुष मंत्रालय के उस बयान का ज़िक्र किया गया है जिसमें उन्होंने कहा था कि अगर कोई भी बगैर इजाज़त के कोरोना की दवा बनाता और बेचता है तो उसके खिलाफ हुकूमत कार्रवाई करेगी. साथ ही जांच कर मुजरिमीन के खिलाफ करवाई की मांग की गई है. यह अर्ज़ी समाजी कारकुन बी मिश्रा ने दाखिल की है.

बता दें योग गुरु बाबा रामदेव ने कोरोना की आयुर्वेदिक दवा बताकर 'कोरोनिल' को लॉन्च किया था. उन्होंने कोरोनिल (CORONIL) टेबलेट से कोरोना के मरीजों के ठीक होने का दावा किया है. बाबा रामदेव ने यह भी दावा किया कि 'कोरोनिल' दवा के इस्तेमाल से महज़ एक हफ्ते में कोरोना मरीज़ ठीक हो जाता है. 

'कोरोनिल' (CORONIL) नाम की इस दवा के साथ इम्युनिटी पावर बढ़ाने के लिए पतंजलि ने 'दिव्य कोरोना किट' भी बनाई है, जिसमें कोरोनिल के अलावा श्वासारि वटी और दिव्य अणु तेल भी है. साथ ही लॉन्चिंग के दौरान यह भी दावा किया गया था कि हफ्ते भर में पूरे मुल्क में 'कोरोनिल' दवा दस्तेयाब होगी.

Zee Salaam Live TV