Ind-Aus Virtual Summit:दोनों मुल्कों के रिश्तों को मज़बूत करने का बेहतर वक्त: PM मोदी

लॉकडाउन के दौरान हिंदुस्तान और ऑस्ट्रेलिया के दरमियान वर्चुअल समिट हुई.

Ind-Aus Virtual Summit:दोनों मुल्कों के रिश्तों को मज़बूत करने का बेहतर वक्त: PM मोदी
फोटो बशुक्रिया ANI

नई दिल्ली: लॉकडाउन के दौरान हिंदुस्तान और ऑस्ट्रेलिया के दरमियान वर्चुअल समिट हुई. इस दौरान वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी ने ऑस्ट्रेलिया के वज़ीरे आज़म स्कॉट मॉरिसन का शुक्रिया अदा करते हुए कहा,"इस मुश्किल वक्त में आपने ऑस्ट्रेलिया में हिंदुस्तानियों का और ख़ास तौर पर हिंदुस्तानी तलबा का, जिस तरह ध्यान रखा है उसके लिए मैं खास तौर पर से शुक्रगुज़ार हूँ."

पीएम मोदी ने कहा कि सबसे पहले मैं अपनी और पूरे हिंदुस्तान की जानिब से ऑस्ट्रेलिया में COVID-19 से मुतास्सिर सभी लोगों और परिवारों के तईं दिली ताज़ियत पेश करना चाहूंगा. इस आलमी महामारी ने दुनिया में हर तरह के इंतेज़ामात मुतास्सिर हुए हैं और हमारे समिट की यह डिजिटल शक्ल इसी तरह के असरात की एक मिसाल है. 

उन्होंने आगे कहा कि हमारी आज की मुलाकात आपके हिंदुस्तान दौरे की जगह नहीं ले सकती. एक दोस्त के नाते, मेरा आपसे गुज़ारिश है कि हालात सुधरने के बाद आप जल्द ही परिवार के साथ हिंदुस्तान दौरे का प्लान करें. इस मुश्किल वक्त में आपने ऑस्ट्रेलिया में हिंदुस्तानियों और खास तौर पर हिंदुस्तानी तलबा का जिस तरह ध्यान रखा है, उसके लिए मैं खास तौर से शुक्रगुज़ार हूं.

पीएम मोदी ने कहा,'मेरा मानना है कि हिंदुस्तान और ऑस्ट्रेलिया के रिश्तों को और मज़बूत करने के लिए यह बेहतर वक्त और मौ​का है. अपनी दोस्ती को और मज़बूत बनाने के लिए हमारे पास ला महदूद इमकानात हैं. कैसे हमारे रिश्ते अपने शोबे के लिए और दुनिया के लिए एक ‘factor of stability’ बनें, कैसे हम मिल कर आलमी बेहतरी के लिए काम करें, इन सभी पहलुओं पर गौर करने की ज़रूत है.'

बता दें कि PM मॉरिसन को जनवरी और फिर मई में हिंदुस्तान आना था. जनवरी में वह आस्ट्रेलिया के जंगलों में लगी शदीद आग की वजह से नहीं आ सके और मई में कोरोना महामारी की वजह से उनका दौरा नहीं हो सका. इसके मद्देनजर दोनों लीडरों ने वर्चुअल मीटिंग का फैसला किया.

इस मौके पर ऑस्ट्रेलिया के वज़ीरे आज़म स्कॉट मॉरिसन ने कहा,"इतने मुश्किल वक्त में आपने (PM मोदी) हिंदुस्तान के अंदर ही नहीं बल्कि पूरे G20, इंडो-पैसिफिक और इस्तेहकाम (Stabilization), तख्लीकी और मसबत किरदार अदा करने के लिए मैं आपका (पीएम मोदी) शुक्रिया अदा देता हूं." उन्होंने आगे कहा "हम जामा (समावेशी) और खुशहाल (समृद्ध) इंडो-पैसिफिक में हिंदुस्तान के किरदार के लिए पुरअज़्म हैं, हमारा शोबा (क्षेत्र) आने वाले सालों में अहम होगा."

Zee Salaam Live TV