PM मोदी ने JNU में स्वामी विवेकानंद के मुजस्समे की नकाब कुशाई की, 15 सालों में हुआ तैयार

बता दें कि यह मुजस्समा जवाहर लाल नेहरू के मुजस्समें से भी 3 फीट ऊंचा बनाया गया है. JNU के साबिक स्टूडेंट्स के तआवुन से कायम हुए इस मुजस्समे की ऊंचाई 11.5 फीट है.

PM मोदी ने JNU में स्वामी विवेकानंद के मुजस्समे की नकाब कुशाई की, 15 सालों में हुआ तैयार

नई दिल्ली: वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी ने आज वीडिया कांफ्रेंसिंग के ज़रिए JNU में स्वामी विवेकानंद जी की प्रतिमा का अनावरण किया. इस दौरान उन्होंने अपने खिताब में कहा कि ये मुजस्समा मुल्क के नौजवानों की कयादत में तरक्की के मकसद के साथ आगे बढ़ने के लिए मुतास्सिर करेगा और हमें स्वामी जी के मज़बूत भारत के ख्वाब को साकार करने की प्रेरणा देगी जो स्वामी जी की उम्मीद रही है  

पीएम ने आगे कहा कि मेरी कामना है कि JNU में लगी स्वामी जी का ये मुजस्समा सभी को प्रेरित करे, ऊर्जा से भरे. हिम्मत दे जिसे स्वामी विवेकानंद हर शख्स में देखना चाहते थे. ये मुजस्समा वो करुणाभाव सिखाए, दया सिखाए जो स्वामी जी के दर्शन के मुख्य आधार रहे हैं.

बता दें कि यह मुजस्समा जवाहर लाल नेहरू के मुजस्समें से भी 3 फीट ऊंचा बनाया गया है. JNU के साबिक स्टूडेंट्स के तआवुन से कायम हुए इस मुजस्समे की ऊंचाई 11.5 फीट है. इस मुजस्समे को स्थापित करने के लिए 3 फीट ऊंचा चबूतरा भी बनाया गया है. इस तरह से इस मुजस्समें की ऊंचाई पंडित नेहरू के मुजस्समे से लगभग तीन फुट ऊंची हो गई है. 

इस मुजस्समे की तामीर 2005 में शुरू हुई थी. JNU के प्रशासनिक भवन के एक हिस्से पर मुल्क के सबसे पहले वज़ीरे आज़म पंडित जवाहर लाल नेहरू का मुजस्समा लगा है. वहां से करीब तीन सौ मीटर दूर स्वामी विवेकानंद का यह मुजस्समा स्थापित किया गया है.