VIDEO: RSS से जुड़ी मुस्लिम तंज़ीम की तकरीब में मुज़ाहिरीन ने किया हंगामा

राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़ी मुस्लिम राष्‍ट्रीय मंच की तकरीब में उस वक्‍त हंगामा मच गया जब शहरियत तरमीमी कानून (सीएए) के खिलाफ मुज़ाहिरा कर रहे मुज़ाहिरीन वहां पहुंच गए और पोस्‍टर-बैनरों के साथ हंगामा करने लगे.

VIDEO: RSS से जुड़ी मुस्लिम तंज़ीम की तकरीब में मुज़ाहिरीन ने किया हंगामा

नई दिल्‍ली: राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) से जुड़ी मुस्लिम राष्‍ट्रीय मंच की तकरीब में उस वक्‍त हंगामा मच गया जब शहरियत तरमीमी कानून (सीएए) के खिलाफ मुज़ाहिरा कर रहे मुज़ाहिरीन वहां पहुंच गए और पोस्‍टर-बैनरों के साथ हंगामा करने लगे. उस वक्‍त मंच पर आरएसएस के सीनियर नेता इंद्रेश कुमार भी मौजूद थे. हंगामे पर विश्‍व हिंदू परिषद के एग्जेक्टिव सद्र आलोक कुमार ने कहा कि कुछ लोग मानते हैं कि इज़हारे राये की आज़ादी सिर्फ उनके लिए ही है. वे तबादला ख़यालात के लिए नहीं आते बल्कि हंगामा करने आते हैं.

इस बीच दिल्ली के शाहीन बाग़ में शहरियत तरमीमी कानून के खिलाफ 33वें रोज़ भी लोगों का मुज़ाहिरा जारी है. सड़कों पर मुज़ाहिरीन बैठे हैं. उनके खाने-पीने का इंतज़ाम भी वहीं किया गया है. क्या महिलाएं, क्या बच्चे सभी मुज़ाहिरे पर बैठे हैं. हाई कोर्ट के हुक्म के बाद दिल्ली पुलिस इन मुज़ाहिरीन से सिर्फ बातचीत तो कर रही है लेकिन ये मुज़ाहिरीन इतनी आसानी से कहां मानने वाले हैं.

हालांकि सिक्यरिटी के नाम पर आज पुलिस ने सीआरपीएफ और लोकल पुलिस को भी तैनात किया है. दिल्ली पुलिस के एसपी और इंस्पेक्टर आज भी बातचीत के लिए गए लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला. लिहाज़ा डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने इलाके के तमाम लोकल नेताओं समेत विधायक अमानतुल्ला खान को भी बातचीत के लिए बुलाया ताकि मुज़ाहिरा कर रहे लोगों से बात कर रोड नंबर 13 को खोला जाए. इस रोड के बंद होने से आम लोग काफी परेशान हैं. ज्यादातर बच्चे जिन्हें अपने स्कूल नोएडा से इन इलाकों में आना पड़ रहा है उन्‍हें घंटों जाम का सामना करना पड़ रहा है.