DSP देविंदर सिंह मामले की NIA जांच पर राहुल गांधी ने उठाए सवाल, स्वामी ने दिया तीखा जवाब

लीडर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने जुमा को ट्वीट कर इस मसले पर मोदी हुकूमत पर निशाना साधा. राहुल गांधी ने लिखा कि देवेंद्र सिंह को खामोश करने का सबसे बेहतरीन तरीका यही है कि उसे नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी यानी NIA के हवाले कर दिया जाए

DSP देविंदर सिंह मामले की NIA जांच पर राहुल गांधी ने उठाए सवाल, स्वामी ने दिया तीखा जवाब

नई दिल्ली: दहशतगर्दों की मदद करने के इल्ज़ाम में जम्मू-कश्मीर से गिरफ्तार किए गए DSP देविंदर सिंह को लेकर सियासी बयानबाजी जारी है. कांग्रेस लीडर राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने जुमा को ट्वीट कर इस मसले पर मोदी हुकूमत पर निशाना साधा. राहुल गांधी ने लिखा कि देवेंद्र सिंह को खामोश करने का सबसे बेहतरीन तरीका यही है कि उसे नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी यानी NIA के हवाले कर दिया जाए. अब इस मामले पर सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) का बयान आया है, उन्होंने ने ज़ी न्यूज़ से खास बातचीत में कहा कि DSP केस की NIA जांच से कांग्रेस घबरा गई है इसलिए राहुल गांधी ऐसी बातें कर रहे हैं. 

कांग्रेस के युवराज ने दहशतगर्दों का नाम लेकर मुल्क की सबसे बड़ी जांच एजेंसी NIA को निशाना बनाया है. ग़ैर मुल्की ज़मीन पर जाकर वज़ीरे आज़म मोदी को कोसने वाले राहुल ने अब, NIA पर ही सवाल उठा दिए और पाकिस्तान की जबान बोलने लगे. राहुल ने ट्वीट किया, 'DSP देविंदर सिंह को खामोश करने का सबसे अच्छा तरीका है जांच NIA को सौंप दो. NIA की कयादत एक और मोदी- वाईके मोदी करते हैं, जिन्होंने गुजरात दंगे और हरेन पंड्या कत्ल कांड की जांच की थी. वाईके मोदी के पास केस जाने का मतलब केस की मौत. 

इतना ही नहीं राहुल ने सवाल उठाया कि दहशतगर्द दविंदर सिंह को कौन चुप कराना चाहता है और क्यों? राहुल के साथ-साथ कांग्रेस के लीडर भी उन्हीं की ज़बान में DSP देविंदर सिंह की तफतीश पर सवाल उठा रहे हैं. कांग्रेस ने इस पूरे मामले पर शफाफियत जांच का मतालबा किया है. जबकि बीजेपी ने भी फौज और NIA पर सवाल उठाए जाने पर कांग्रेस को सख्त रद्दे अमल दिया.