कोरोना संकट के बीच RBI के बड़े ऐलान, हेल्थ और बैंकों को दी बड़ी राहत

इस दौरान गवर्नर शक्तिकांत दास ने इमरजेंसी हेल्थ सर्विस के लिए 50,000 करोड़ रुपए दिए.

कोरोना संकट के बीच RBI के बड़े ऐलान, हेल्थ और बैंकों को दी बड़ी राहत
फोटो: बशुक्रिया ANI

नई दिल्ली: कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) के गवर्नर ने प्रेस कांफ्रेंस की और कहा कि RBI मौजूदा कोरोना के हालात की निगरानी करना जारी रखेगा. खास तौर पर शहरियों, कारोबारियों इदारों और दूसरी लहर से प्रभावित संस्थानों के लिए अपने कंट्रोल के सभी इदारों और वसायल को तैनात करेगा.

इस दौरान गवर्नर शक्तिकांत दास ने इमरजेंसी हेल्थ सर्विस के लिए 50,000 करोड़ रुपए दिए. इसके जरिए बैंक वैक्सीन मैन्युफैक्चर्स, वैक्सीन ट्रांसपोर्ट, एक्सपोर्टर्स को आसान किस्तों पर लोन उपलब्ध कराएंगे. इसके अलावा हॉस्पिटल्स, हेल्थ सर्विस प्रोवाइडर्स को भी इसका लाभ मिलेगा. उन्होंने कहा, प्राइरोरिटी सेक्टर के लिए जल्द लोन और इंसेंटिव दिया जाएगा.

RBI ने 10,000 करोड़ रुपये तक के स्मॉल फाइनेंस बैंकों (SFB) के लिए लंबी मियाद के रेपो ऑपरेशन का ऐलान किया है. इसका इस्तेमाल प्रति उधारकर्ता 10 लाख रुपये तक के लोन के लिए किया जाएगा. इसके अलावा RBI गवर्नर ने कहा कि Priority सेक्टर के लिए कोविड लोन (Covid Loan) बुक बनाए जाएंगे. 

इसके अलावा RBI गवर्नर KYC में कुछ बदलाव को लेकर कहा कि मौजूदा हालात को देखते हुए केवाईसी कानून में कुछ बदलाव किए गए हैं. विडियो के जरिए KYC को मंजूरी दी गई है. आरबीआई ने 1 दिसंबर 2021 तक लिमिटेड केवाईसी के उपयोग की अनुमति दी है.

अपडेट जारी है...

ZEE SALAAM LIVE TV