RSS ने भी साधा आमिर खान पर निशाना, कहा- 'ड्रेगन का प्यारा खान'

आरएसएस ने कहा गया है, 'जिस तरह आमिर खान तुर्की जाकर हिंदुस्तानियों के जज़्बात को ठेंगा दिखा रहे हैं, उसे समझने की ज़रूरत है. 

RSS ने भी साधा आमिर खान पर निशाना, कहा- 'ड्रेगन का प्यारा खान'
फाइल फोटो.

नई दिल्ली: बॉलीवुड अदाकार आमिर खान तुर्की के सद्र की अहलिया के साथ वायरल हो रही तस्वीर को लेकर सुर्खियों में हैं. लोग उन पर  इस तस्वीर को लेकर तरह-तरह तबसिरे कर रहे हैं. इसी सिम्त में अब राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) ने आमिर खान पर जमकर निशाना साधा है. RSS ने अपने मुखपत्र 'पांचजन्य' में आमिर खान को चीनी स्मार्टफोन कंपनी वीवो का ब्रांड एंबेसडर बनाए जाने और हाल ही में तुर्की दौरे पर उनकी खूब खिंचाई की है. इस चार पेज के आर्टिकल 'ड्रैगन का प्यारा खान' में आमिर खान पर कई सवाल उठाए गए हैं.

आरएसएस ने कहा गया है, 'जिस तरह आमिर खान तुर्की जाकर हिंदुस्तानियों के जज़्बात को ठेंगा दिखा रहे हैं, उसे समझने की ज़रूरत है. एक तरफ तो वह खुद को सेक्युलर कहते हैं लेकिन दूसरी तरफ यही आमिर इज़रायल के वज़ीरे आज़म के हिंदुस्तान आने पर उनसे मिलने से मना करते हैं. अगर आमिर खुद को इतना ही सेक्युलर मानते हैं तो तुर्की जाकर शूटिंग करने की क्यों सोच रहे हैं, जो जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान की हिमायत करता रहा है.'

Aamir Khan faces Twitter flak for meeting First Lady of Turkey Emine Erdogan, see viral pics

बता दें कि आमिर खान इस वक्त अपनी फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' (Lal Singh Chaddha) की शूटिंग के सिलसिले में तुर्की में हैं. इस दौरान उन्होंने इतवार को तुर्की के सद्र की अहलिया एमीन एर्दोगन (Emine Erdogan) से मुलाकात की थी. इस मुलाकात की तस्वीर को तुर्की की खातूने अव्वल एमीन ने सोशल मीडिया पर शेयर भी किया था.

इसके अलावा RSS के आर्टिकल में कहा गया है कि आमिर खान की फिल्म 'दंगल' ने चीन में कुल 1,400 करोड़ रुपये का कारोबार किया, जबकि सलमान (Salman Khan) की 'सुल्तान' महज़ 40 करोड़ ही कमा पाई थी. आमिर हिंदुस्तान में चीनी मोबाइल फोन वीवो के ब्रांड एंबेसडर हैं, जो सिक्योरिटी के कानून की सरेआम अनदेखी करता है. आमिर खान के चीनी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म 'सिना वीवो (Sina Vivo) पर 10 लाख से ज्यादा फॉलोवर हैं.

Zee Salam LIVE TV