साध्वी प्राची बोलीं, जिन्हें 3 तलाक़ से दिलाई अज़ादी, वही 500 रू. की ख़ातिर करने लगीं मुख़ालिफ़त

उन्होंने मज़ीद कहा कि यह क़ौम कभी वफ़ादार ही नहीं रही और ना ही यह लोग कभी मुल्क के मुफाद में खड़े होते, यह लोग खाते हिंदुस्तान का हैं और दिल इन का कहीं और होता है. साध्वी ने कहा यह लोग 370 और तीन तलाक़ जैसे मुद्दो को लेकर मोदी जी के खिलाफ खड़े हैं. 

साध्वी प्राची बोलीं, जिन्हें 3 तलाक़ से दिलाई अज़ादी, वही 500 रू. की ख़ातिर करने लगीं मुख़ालिफ़त
फाइल फोटो...

बरेली: शहरियत तरमीमी कानून की मुखालिफ़त में सियासी लीडरान तरह-तरह की बयान बाज़ियां दे रहे हैं, कोई भी लीडर बयान देने से पहले यह नहीं सोच रहा कि उसके बयान का मफहूम क्या है. हाल ही में साध्वी प्राची ने बयान दिया है कि उन्होंने कहा कि मुस्लिम क़ौम कभी वफादार नहीं होती और यह लोग खाते हिंदुस्तान का हैं लेकिन इनका दिल कहीं और होता है, अपने इस बयान के बाद वो सुर्खियों में आ गई हैं.

बरेली पहुंची विश्व हिंदू परिषद की लीडर साध्वी प्राची ने शाहीन बाग़ में CAA और NRC के खिलाफ़ मुज़ाहिरा कर रही ख़वातीन को कहा है कि जिनको वज़ीरे आज़म नरेंद्र मोदी ने 3 तलाक़ से छुटकारा दिलाया है अब वही ख़वातीन उन्हीं के खिलाफ़ 500 रूपय के लिए रात-रात भर धरने पर बैठी रहती हैं, वो सिर्फ यहीं पर नहीं रुकीं उन्होंने मज़ीद कहा कि यह क़ौम कभी वफ़ादार ही नहीं रही और ना ही यह लोग कभी मुल्क के मुफाद में खड़े होते, यह लोग खाते हिंदुस्तान का हैं और दिल इन का कहीं और होता है. साध्वी ने कहा यह लोग 370 और तीन तलाक़ जैसे मुद्दो को लेकर मोदी जी के खिलाफ खड़े हैं. 

इसके अलावा उन्होंने अनुराग ठाकुर के उस बयान की भी हिमायत की है जिसमें उन्होंने शाहीन बाग़ में मज़ाहिरा कर रहे लोगों को कहा था कि मुल्क के गद्दारों को गोली मारो, अनराग ठाकुर ने यह बयान दिल्ली असेंबली इंतेखाबात के तहत BJP उम्मीदवार मनीष चौधरी की हिमायत में रैली के दौरान दिया था. उनका कहना है की जो लोग देश के टुकड़े टुकड़े करने की बात करते है उनको क्या थाली परोसकर दी जाएगी, बल्कि ऐसे लोगो को तो फाँसी देनी चाहिए.