Tokyo Olympics: कमलप्रीत ने चक्काफेंक फाइनल में क्वालीफाई किया, सीमा पूनिया चूकी

कमलप्रीत कौर (Kamalpreet Kaur) ने 64 मीटर के थ्रो के साथ क्वालीफिकेशन दौर में दूसरे स्थान पर रहकर चक्काफेंक मुकाबले के फाइनल में जगह बना ली 

Tokyo Olympics: कमलप्रीत ने चक्काफेंक फाइनल में क्वालीफाई किया, सीमा पूनिया चूकी

नई दिल्ली: टोक्यो ओलिंपिक-2020 (Tokyo Olympics 2020) में शुक्रवार का दिन देश के लिए मेडल की सौगात लेकर आया. शुक्रवार को भारत का दूसरा पदक पक्का हो गया है. महिला मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन ने 69 किलोग्राम भारवर्ग के सेमीफाइनल में जगह बनाकर यह काम किया. आज बॉक्सर अमित पंघाल और तीरंदाज अतनु दास अपने-अपने मुकाबले हार गए. अमित पंघाल का पहले ही राउंड में नॉकआउट हो जाना देश के लिए बड़ा झटका है. 

इसके अलावा कमलप्रीत कौर (Kamalpreet Kaur) ने 64 मीटर के थ्रो के साथ क्वालीफिकेशन दौर में दूसरे स्थान पर रहकर चक्काफेंक मुकाबले के फाइनल में जगह बना ली जबकि अनुभवी सीमा पूनिया चूक गई.

कमलप्रीत ने अपनी तीसरी कोशिश में 64 मीटर का थ्रो फेंका जो क्वालीफिकेशन मार्क भी था. क्वालीफिकेशन में अव्वल रहने वाली अमेरिका की वालारी आलमैन के अलावा वह 64 मीटर या ज्यादा का थ्रो लगाने वाली अकेली खिलाड़ी रहीं. दोनों पूल में 31 खिलाड़ियों में से 64 मीटर का मार्क पार करने वाले या शीर्ष 12 ने क्वालीफाई किया.

सीमा पूनिया पूल ए में 60 . 57 के थ्रो के साथ छठे स्थान पर रहीं. कमलप्रीत ने पूल बी में पहली कोशिश में 60.29 , दूसरे में 63 . 97 और आखिर में 64 मीटर का थ्रो फेंका. वहीं पूल ए में सीमा की पहली कोशिश अवैध रही. दूसरी कोशिश में उन्होंने 60 . 57 और तीसरे में 58 . 93 मीटर का थ्रो फेंका.

ZEE SALAAM LIVE TV