उद्धव ठाकरे का CAA पर नर्म रुख, NRC के निफाज़ से किया इंकार

शिवसेना ने हिंदुत्व के एजेंडे को नहीं छोड़ा है और ना ही उससे कोई समझौता किया है. हमने सिर्फ इत्तेहाद किया है और इसका मतलब बिल्कुल भी यह नहीं कि हमने अपना मज़हब बदल लिया हो, हम अपने हिंदुत्व के एजेंडे पर क़ायम हैं. 

उद्धव ठाकरे का CAA पर नर्म रुख, NRC के निफाज़ से किया इंकार
फाइल फोटो...

मुंबई: महाराष्ट्र के वज़ीरे आला उद्धव ठाकरे ने शहरियत तरमीमी कानून (CAA) के तईं अपना नर्म रुख़ दिखाते हुए कहा कि यह कानून किसी भी हिंदुस्तानी की शहरियत नहीं छीनता है, हालांकि उन्होंने महाराष्ट्र में कौमी शहरियत रजिस्टर (NRC) को नाफिज़ करने से इंकार कर दिया है. उद्धव ने यह बातें शिवसेना एमपी संजय राउत को दिए एक इंटरव्यू के दौरान कहीं.

शिवसेना सद्र और महाराष्ट्र के वज़ीरे आला उद्धव ठाकरे ने हिंदू एजेंडे को लेकर कहा कि शिवसेना ने हिंदुत्व के एजेंडे को नहीं छोड़ा है और ना ही उससे कोई समझौता किया है. हमने सिर्फ इत्तेहाद किया है और इसका मतलब बिल्कुल भी यह नहीं कि हमने अपना मज़हब बदल लिया हो, हम अपने हिंदुत्व के एजेंडे पर क़ायम हैं. यह इंटरव्यू आने वाली 3, 4 और 5 तारीख़ को सामना में शाया किया जाएगा.

आपको बता दें कि हिंदुत्व के एजेंडे को लेकर महाराष्ट्र नव निर्माण सेना (MNS) और शिवसेना के दरमियान जंग सी छिड़ गई है . MNS पुर जोश तरीके हिदुंत्व के एजेंडे को अपना रही है और हिदुंत्व की सियासत अपनाने की यह होड़ तब शुरू हुई जब 23 जनवरी को MNS ने नया परचम जारी किया था, इस परचम में MNS ने नए निशान और नए नज़रिये की शुरूआत की थी, यह परचम MNS सद्र राद ठाकरे ने रिलीज़ किया था.