WTC Final: हार के बाद कोहली ने इशारों-इशारों में बल्लेबाजों के लिए कह दी यह बड़ी बात

कोहली ने मैच के बाद आनलाइन प्रेस कांफ्रेंस में कहा,"हम आत्ममंथन करते रहेंगे और इस पर बात होती रहेगी कि टीम को मजबूत बनाने के लिये क्या करना चाहिये. एक ही ढर्रे पर नहीं चलेंगे ."

WTC Final: हार के बाद कोहली ने इशारों-इशारों में बल्लेबाजों के लिए कह दी यह बड़ी बात

साउथैम्पटन: न्यूजीलैंड के हाथों विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में मिली हार के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने टेस्ट टीम में बदलाव के इशारे देते हुए कहा कि प्रदर्शन के जायजे के बाद सही लोगों को लाया जायेगा जो अच्छे प्रदर्शन के लिये सही मानसिकता के साथ उतरें.

भारतीय बल्लेबाजों ने फाइनल में निराश किया जिससे टीम को आठ विकेट से हार का सामना करना पड़ा. कोहली ने किसी का नाम नहीं लिया लेकिन कहा कि कुछ खिलाड़ी रन बनाने का जज्बा ही नहीं दिखा रहे हैं. बता दें कि सीनियर बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने 54 गेंद में आठ रन बनाये और अपने पहले रन के लिये 35 गेंद खेली. उसके बाद दूसरी इनिंग में 80 गेंद में 15 रन बनाये. न्यूजीलैंड ने 139 रन का लक्ष्य आसानी से हासिल कर लिया.

यह भी पढ़ें: WTC FINAL: न्यूजीलैंड से करारी हार के बाद Virat Kohli ने बनाया यह बड़ा बहाना

कोहली ने मैच के बाद आनलाइन प्रेस कांफ्रेंस में कहा,"हम आत्ममंथन करते रहेंगे और इस पर बात होती रहेगी कि टीम को मजबूत बनाने के लिये क्या करना चाहिये. एक ही ढर्रे पर नहीं चलेंगे ." उन्होंने कहा, "हम एक साल तक इंतजार नहीं करेंगे. आप हमारी सीमित ओवरों की टीम देखें तो हमारे पास गहराई है और खिलाड़ी आत्मविश्वास से भरे हैं. टेस्ट क्रिकेट में भी इसकी जरूरत है."

कोहली ने कहा ,"हमें नये सिरे से समीक्षा करके योजना बनानी होगी और यह समझना होगा कि टीम के लिये क्या असरदार है और हम कैसे बेखौफ खेल सकते हैं. सही लोगों को लाना होगा जो अच्छे प्रदर्शन की सही मानसिकता के साथ उतरें." उन्होंने न्यूजीलैंड जैसे शानदार गेंदबाजी आक्रमण के सामने रन बनाने के बारे में भी बात करते हुए कहा, "हमें इस पर काम करना होगा कि रन कैसे बनाये जायें. हमें मैच को अपने हाथ से निकलने नहीं देना है. मुझे नहीं लगता कि कोई तकनीकी परेशानी है."

यह भी पढ़ें: बांग्लादेश के मौलाना ने Facebook की 'हा हा' इमोजी को बताया 'हराम', दी यह दलील

कोहली ने कहा, "यह जागरूकता की और गेंदबाजों का निडर होकर सामना करने की बात है. गेंदबाजों को लंबे वक्त तक एक ही जगह गेंदबाजी के मौके नहीं देने हैं बशर्ते गेंद जबर्दस्त स्विंग नहीं ले रही हो जैसा पहले दिन हुआ था."

ZEE SALAAM LIVE TV