कुल्हाड़ी से पति का किया कत्ल, 4 में से 3 बच्चों के साथ खुद भी कूद गई कुएं में और फिर...

जिले के आमाडांडा डोंगरापारा इलाके में अनुरूप सिंह पैकरा अपनी पत्नी और चार बच्चों के साथ रहता था. रोज की तरह इतवार की रात भी सभी ने खाना खाया और सोने चले गए.

कुल्हाड़ी से पति का किया कत्ल, 4 में से 3 बच्चों के साथ खुद भी कूद गई कुएं में और फिर...

दुर्गेश/पेंड्राः छत्तीसगढ़ के पेंड्रा में पीर के रोज़ एक दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई. यहां एक 32 साल की महिला ने पहले अपने पति को कुल्हाड़ी से मौत के घाट उतारा. फिर अपने 4 में से 3 बच्चों को कुएं में फेंक दिया. बच्चों को फेंकने के बाद वह खुद भी कुएं में कूद गई. वहीं आसपास के लोगों ने बच्चे की चीख सुन महिला और बच्चों को बाहर निकाला फिर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान ने अपने JF-17 विमान को बताया राफेल से बेहतर, जानिए क्या है दोनों में खास

वारदात पेंड्रा थाना इलाके के आमाडांडा डोंगरापारा इलाके की बताई गई है. जहां एक महिला अपने पति के कत्ल के बाद तीन बच्चों के साथ कुएं में कूद गई. बाहर खड़ी चौथी बच्ची चीखने लगी, बच्ची की चीख सुनकर लोगों ने महिला और तीन बच्चों को बाहर निकाला. अस्पताल में इलाज के बाद महिला समेत तीनों ही बच्चों को खतरे से बाहर बताया है. पुलिस ने मामले पर एक्शन लेते हुए तुरंत महिला को गिरफ्तार कर लिया.

यह भी पढ़ें: 7वें दौर की मीटिंग के दौरान सरकार ने किसानों को दिया ये बड़ा दर्जा

क्या है पूरा मामला
जिले के आमाडांडा डोंगरापारा इलाके में अनुरूप सिंह पैकरा अपनी पत्नी और चार बच्चों के साथ रहता था. रोज की तरह इतवार की रात भी सभी ने खाना खाया और सोने चले गए. अनुरूप और उसके सभी बच्चे गहरी नींद में सो रहे थे, तभी सुबह 4 बजे उसके गले पर वार होता है. किसी तरह उसने अपनी आंखे खोली और कातिल को देखा. उसे देखते ही वह हैरान रह गया. अनुरूप पर किसी और ने नहीं बल्कि उसी की पत्नी विद्या बाई ने कुल्हाड़ी से हमला किया था.

यह भी पढ़ें: बच्चे का इलाज कराने के लिए नहीं थे पैसे, कड़ाके की ठंड में नदी किनारे छोड़ गया पिता

पति के कत्ल के बाद महिला अपने चारों बच्चों को साथ लेकर गांव के कुएं पर पहुंची. वहां उसने पहले अपने तीन बच्चों को कुएं में फेंका, फिर खुद भी कूद गई लेकिन चार बच्चों में सबसे बड़ी बेटी मां के साथ नहीं कूदी और बाहर ही रह गई. मां और भाई-बहनों को कुएं में तड़पता देख बच्ची चीखने लगी. बच्ची की आवाज सुन आसपास खड़े लोग दौड़ते हुए कुएं के पास पहुंचे और कुएं में छलांग लगा दी. लोगों ने छलांग लगाकर तुरंत उन सभी को अस्पताल पहुंचाया.

यह भी पढ़ें: "लव जेहाद" पर पूर्व नौकरशाहों में "जेहाद": 104 के विरोध के बाद अब 224 ने की हिमायत

4 साल से भी कम उम्र के हैं तीनों बच्चे
जानकारी मिली है कि विद्या बाई जिन तीन बच्चों को लेकर कूदी थी, उनकी उम्र क्रमशः चार, ढाई और डेढ़ साल हैं. 108 एम्बुलेंस की मदद से अस्पताल में दाखिल कराने के बाद ग्रामीण घर पहुंचे. घर में अनुरूप का खून से सना शव देख गांव वाले भौचक्के रह गए. अनुरूप पैकरा लहूलुहान खाट पर पड़ा था और उसका गला कुल्हाड़ी से कटा हुआ था.

यह भी पढ़ें: LAC पर विवाद के बीच दिल्ली-मेरठ रैपिड रेल प्रोजेक्ट में चीनी कंपनी को मिला बड़ा ठेका

सामने आई ये बड़ी वजह
पति के खून की बात गांव वालों ने विद्या से पूछी, तो उसने बताया कि उसी ने पति को कुल्हाड़ी से मारा है. पेंड्रा थाना टीआई युवराज तिवारी ने बताया कि महिला की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी. उसका इलाज चल रहा था, लेकिन घटना की पिछली रात दोनों में किसी बात को लेकर विवाद हुआ था.

यह भी पढ़ें: बासी चावल फेंकने वाले पढ़लें यह खबर, फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान, इस तरह करें इस्तेमाल

बताया गया है कि घरवाले विद्या को पागल भी कहा करते थे, इसी बात से गुस्साई विद्या ने अपने पति की हत्या कर दी. वहीं परिजनों ने स्वीकार किया है कि विद्या की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी, उसका पहले से ही इलाज चल रहा था. हर छह महीने में उसे इंजेक्शन लगता था. डॉक्टर ने उसे पूरी तरह स्वस्थ घोषित भी नहीं किया था और इसी बीच यह घटना हो गई.

Zee Salaam LIVE TV