कश्मीर मुद्दे पर गुतरेस को भारत का जबाव: तीसरे फ़रीक़ की कोई गुंजाईश नहीं

इकवामे मुत्तहिदा के जनरल सैक्रेटरी एंटोनियो गुतरेस ने पाकिस्तान दौरे पर कश्मीर को लेकर बयान दिया जिस पर हिंदुस्तान ने सख्त ऐतराज़ ज़ाहिर करते हुए कहा है कि कश्मीर पर  किसी तीसरे पक्ष की मध्यस्थता का सवाल ही नहीं उठता

कश्मीर मुद्दे पर गुतरेस को भारत का जबाव: तीसरे फ़रीक़ की कोई गुंजाईश नहीं
फाइल फोटो...

नई दिल्ली: इकवामे मुत्तहिदा के जनरल सैक्रेटरी एंटोनियो गुतरेस ने पाकिस्तान दौरे पर कश्मीर को लेकर बयान दिया जिस पर हिंदुस्तान ने सख्त ऐतराज़ ज़ाहिर करते हुए कहा है कि कश्मीर पर  किसी तीसरे पक्ष की मध्यस्थता का सवाल ही नहीं उठता.

इकवामे मुत्तहिदा के जनरल सैक्रेटरी एंटोनियो गुतरेस चार दिन के पाकिस्तान दौरे पर हैं. पाकिस्तानी वज़ीरे खार्जा से मुलाकात के बाद गुतरेस ने कश्मीर मुद्दे का ज्रिक करते हुए कहा कि कश्मीर मुद्दे के हल के लिए सिफारती और बातचीत वाहिद हल हैं, जो इकवामे मुत्तहिदा के कानून और सलामती कौंसिल की तजावीज़ के मुताबिक अमन और इस्तेहकाम को यकीनी बनाते हैं. उन्होंने कहा कि अगर भारत-पाकिस्तान सालिसी के लिए रज़ामंद हैं तो मैं मदद के लिए तैयार हूं.

गुतरेस के इस बयान पर वज़ारते खार्जा के तरजुमान रवीश कुमार ने कहा कि हिंदुस्तान के रुख़ में कोई तब्दीली नहीं है. जम्मू और कश्मीर भारत का अटूट हिस्सा रहा है, है और रहेगा भी. अगर किसी मुद्दे के हल की ज़रूरत है तो वह पाकिस्तान के ज़रिए ग़ैर कानूनी तौर पर कब्जे में लिए गए इलाके को खाली कराने का मुद्दा है. बाकी के मसले, अगर कोई है तो, उन्हें लेकर दो तरफा बात-चीत होगी. किसी तीसरे फरीक़ का कोई किरदार या सालिसी की कोई गुंजाइश नहीं है. उन्होंने मज़ीद कहा कि हमें उम्मीद है कि इकवामे मुत्तहिदा के जनरल सैक्रेटरी पाकिस्तान के लिए भारत के खिलाफ़ सरहद पार दहशतगर्दी को ख़त्म करने के लिए काबिले यकीन और मुस्तहकम कार्रवाई करने पर ज़ोर देंगे.