चीन क्यों छिपा रहा है दुनिया से कोरोना वायरस की असलियत, चीनी कंपनी का लीक हुआ डेटा

चीन में इस महामारी से लाखों लोग इन्फेक्टेड हो चुके हैं चीन की कंपनी टेनसेंट (Tensent) के मुताबिक कोरोना से अब तक 24 हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है  

चीन क्यों छिपा रहा है दुनिया से कोरोना वायरस की असलियत, चीनी कंपनी का लीक हुआ डेटा

चीन में कोरोना वायरस से दहशत का माहौल है लाखों लोग इस वायरस की जद में आ चुके हैं और चीनी हुकूमत कोरोना वायरस से हो रही मौत के सही डेटा दुनिया से छिपा रही है। हाल ही में चीन की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी टेनसेंट के डेटा को देखकर सबका दिल दहल गया, इस रिपोर्ट के मुताबिक लाखों लोग कोरोना वायरस से इन्फेक्टेड हो चुके हैं और मौत का साया मंडरा रहा है।

24000 की मौत की सच

चीन के ताइवान की मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक चीनी हुकूमत ने ग़लती से यहा आदादो शुमार जारी किया है। रिपोर्ट में यह दिखाया गया है कि कोरोना वायरस से अब तक चीन में डेढ़ लाख से भी ज़्यादा लोग इस वायरस से मुतास्सिर हैं और इस खतरनाक वायरस से अब तक चीन में 24589 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि लीक रिपोर्ट के बाद ताइवान औऱ हांगकांग में सोशल मीडिया में ये ख़बर वायरल होते ही सनसनी फैल गई... जिसके बाद सोशल साइट्स से यह डेटा हटा लिए गए, इसके बाद कंपनी ने नया आदादो शुमार भी जारी किया, जिसके मुताबिक, कोरोना वायरस से अब तक 14,446 लोग मुतास्सिर हैं और करीब 304 लोगों की मौत हुई है. उधर चीन से जारी हुए बयान के मुताबिक जुमे की सुबह तक इस वायरस की वजह से 636 लोग दम तोड़ चुके हैं. चीन समेत पूरी दुनिया में इस जानलेवा बीमारी की जद में 31,000 से ज्यादा लोग आ चुके हैं.

क्या है कोरोना वायरस

कोरोना वायरस की जानकारी अभी तक साइंस में नहीं थी...अब ये वायरस चीन के अलावा दूसरे मुमालिक में भी पहुंच चुका है...कोरोना वायरस बीते साल के दिसंबर में चीन के वुहान शहर से फैला था...यह वायरस अपने साइज़ में कांटों की तरह दिखता है जिसके चलते इस वायरस का नाम कोरोना पड़ा है। यह वायरस इंसान के फेफड़ों में हमला करता है जिससे इंफेक्टेड होकर उस इंसान को बुखार आ जाता है जिसके बाद उसे सूखी खांसी होती है, और एक हफ्ते बाद ही उसे सांस लेने में तकलीफ होने लगती है । मौजूदा जानकारी के अनुसार इस ख़ास वायरस की एक बड़ी फैमिली है जिसमें से सिर्फ छह वायरस ही इंसान को मुतासिर कर सकते हैं. माना जा रहा है कि इंसानों में बीमारी फैलाने वाला कोरोना वायरस इस फैमिली का सांतवा रूक्न है।

अब तक क्यों नहीं मिल रहा इसका इलाज ?

चीनी ऑफिसर्स के बयानों के मुताबिक इससे होने वाली मौतों की तादाद इसलिए बढ़ रही है क्योंकि वहां हॉस्पिटल्स और बेड की कमी है, उनका कहना है कि वायरस से मुतास्सिरों की बढ़ती तादाद को ध्यान में रखते हुए इलाज के लिए टेंट हॉस्पिटल और मोबाइल क्लिीनिक शुरू किए गए हैं?