पाकिस्तान में हिंदू मंदिर में तोड़-फोड़, मुल्ज़िम गिरफ़्तार, जांच शुरू

पुलिस के एक तर्जुमान ने बताया कि शिकयात मिलने के बाद मुल्ज़िम शख़्स को चंद घंटों में ही गिरफ़्तार करके केस दर्ज कर लिया गया है.

पाकिस्तान में हिंदू मंदिर में तोड़-फोड़, मुल्ज़िम गिरफ़्तार, जांच शुरू

इस्लामाबाद: पाकिस्तान से लगातार अक़्लियती तबक़े ख़ास तौर पर हिंदुओं पर ज़ुल्मो ज़्यादती की ख़बर आती रहती हैं. ताज़ा मामला पाकिस्तान के जुनूब मशरिक़ी (दक्षिण-पूर्व) सूबा सिंध का है जहां एक शख़्स ने एक हिंदू मंदिर में तोड़-फोड़ की और मूर्तियों को नुक़सान पहुंचाया है. पुलिस के मुताबिक़ शिकायत करने वाले अशोक कुमार ने इल्ज़ाम लगाया है कि मुल्ज़िम मोहम्मद इस्माइल ने ज़िला बदीन के एक मंदिर में रखी हुए मूर्तियों को नुक़सान पहुंचाया और वहां से फ़रार हो गया.

वहीं बदीन पुलिस के एक तर्जुमान ने बताया कि शिकयात मिलने के बाद मुल्ज़िम शख़्स को चंद घंटों में ही गिरफ़्तार करके केस दर्ज कर लिया गया है. उन्होंने बताया कि इस बात की अभी तस्दीक़ नहीं हो पाई है कि मुल्ज़िम शख़्स ज़ेहनी तौर पर मुस्तहकम (स्थिर) है या जान-बूझ कर मूर्तियों को नुक़सान पहुंचाया है. वहीं बदीन के सीनियर सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस शब्बीर सेठर ने 24 घंटों में जांच रिपोर्ट सौंपने को कहा है.

याद रहे कि पाकिस्तान में सब से बड़ी अक़िलयती (अल्पसंख्यक) बिरादरी हिंदुओं की है. एक सरकारी अंदाज़े के मुताबिक़ पाकिस्तान में 75 लाख हिंदू आबाद हैं जिसमें ज़्यादातर हिंदू सिंध में रहते हैं. सिंध में अक्लियती तबक़े के ख़िलाफ़ तशद्दुद के वाक़्यात अकसर सामने आते रहते हैं.