ऋषिकेश: उफनती बीन नदी में यात्रियों से भरी बस पलटी

बस में करीब 50 यात्री सवार थे. हादसे के बाद स्थानीय लोगों ने सभी यात्रियों को ट्रैक्टर की मदद से बाहर निकाला.

ऋषिकेश: उफनती बीन नदी में यात्रियों से भरी बस पलटी
हादसे में किसी भी पैसेंजर के हताहत होने की खबर नहीं है.
Play

ऋषिकेश: पहाड़ों में हो रही बरसात के चलते बरसाती नदियां इस कदर उफान पर हैं कि भारी-भरकम वाहन भी इसके आगे बौने साबित हो रहे हैं.बुधवार शाम ऋषिकेश से चीला मार्ग पर होते हुए हरिद्वार आ रही एक प्राइवेट बस के चालक की लापरवाही बस में सवार करीब 40 से 45 यात्रियों की जान पर उस समय भारी पड़ गई जब यात्रियों के कई बार मना करने के बावजूद चालक ने उफनती बीन नदी में बस उतार कर उसे पार करने की कोशिश की. नदी के बीच में पहुंचने के बाद तेज बहाव की वजह से बस बीच में पलट गई. बीच नदी में बस के अनियंत्रित होकर पलटने की वजह से दर्जनों यात्रियों को चोट आई हैं. जानकारी के मुताबिक, उस बस में करीब 45-50 यात्री सवार थे. हालांकि, इस हादसे में किसी भी यात्री के बहने की खबर नहीं है.

स्थानीय लोगों ने ट्रैक्टर की मदद से सभी लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला. बस में सवार यात्रियों का कहना है कि पानी के बहाव के देखते हुए चालक को बार-बार मना किया गया कि वह बस को लेकर नदी में ना घुसे, लेकिन उसने किसी की बातों पर ध्यान नहीं दिया और बस नदी में उतार दी. तेज बहाव के चलते बस पलट गई. घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची लक्ष्मनझूला थाने की पुलिस का कहना है कि पहली नजर में बस चालक की लापरवाही सामने आ रही है. हालांकि, इस हादसे में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है. जिन यात्रियों को थोड़ी-बहुत चोटें आई हैं उन्हें नजदीकी अस्पताल ले जाया गया.

उत्तराखंड में लगातार 3 दिन तेज बारिश का हाई अलर्ट, सभी जिलाधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश

बरसाती बीन नदी में इन दिनों पानी काफी ज्यादा रहता है. पहाड़ों में होने वाली बरसात के कारण नदी का जलस्तर काफी बढ़ जाता है, इसलिए कई बार इस मार्ग को यातायात के लिए बंद भी किया जाता है. इसके बावजूद चालक अपनी और सवारियों की जान जोखिम में डालकर नदी पार करने की कोशिश करते हैं.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close