पीएम मोदी के झारखंड दौरे को भुनाने में जुटी BJP, मिशन-19 पर है नजर

बीजेपी की प्राथमिकता लोकसभा चुनाव में झारखंड की सभी सीटों पर कब्जा जमाना है.

पीएम मोदी के झारखंड दौरे को भुनाने में जुटी BJP, मिशन-19 पर है नजर
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का झारखंड दौरा काफी अहम माना जा रहा है. (फाइल फोटो)
Play

कुमार चन्दन/कामरान जलीली/रांची : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 सितम्बर को झारखंड दौरे पर आ रहे हैं. प्रधानमंत्री के झारखंड दौरे को बीजेपी, सरकार के साथ-साथ संगठन के पक्ष में भी भुनाने में जुट गई है. पीएम मोदी के इस दौरे को झारखंड बीजेपी की मिशन-19 की तैयारी के तौर पर देखा जा रहा है. पार्टी इसका अधिक से अधिक फायदा उठा सके इसके लिए रणनीति बन रही है.

झारखंड में बीजेपी मिशन-19 की तैयारी में जुट गई है. बीजेपी की प्राथमिकता लोकसभा चुनाव में झारखंड की सभी सीटों पर कब्जा जमाना है. फिलहाल 12 लोकसभा की सीट बीजेपी के खाते में है. बीजेपी की कोशिश है कि इन सीटों पर कब्जा बरकरार रखते हुए बांकी दो लोकसभा सीट (दुमका और राजमहल) पर भी कमल खिलाया जाए. ऐसे में बीजेपी को भरोसा है कि मिशन-19 को साधने में 23 सितम्बर का मोदी मंत्र कारगर साबित होगा.

PM Modi will inaugurate ayushman bharat health scheme in jharkhand.

रांची में आयुष्मान भारत के बहाने पीएम मोदी की मौजूदगी विरोधियों के महागठबंधन की कयावद पर वार होगा. बीजेपी ने मोदी के दौरे को भुनाने की तैयारी के लिए प्रदेश कार्यसमिति की तारीख को भी पहले कर दिया है. पीएम मोदी के हाथों 'आयुष्मान भारत' की झारखंड से शुरुआत करवाकर मुख्यमंत्री राज्य की जनता के प्रति अपना समर्पण दिखाना चाहते हैं. वहीं, बीजेपी मोदी की मौजूदगी को मिशन-19 के आगाज के तौर पर पेश करना चाहती है. 

झारखंड कांग्रेस यह कहकर निशाना साध रही है कि मोदी चार साल पहले वाले मोदी नहीं रहे. साथ ही पीएम मोदी को पहले अपने वायदे पर अमल करने और फिर झारखंड आने की नसीहत दे रहे हैं. सत्ता पक्ष हो या विपक्ष सभी की निगाहें 2019 में दिल्ली की गद्दी पर ही टिकी हुईं हैं. इसके लिए संगठन को सहेजने का मौका हो या विरोधियों पर वार करने का, अपने-अपने सियासी तरकस से एक साथ साधने की कोशिश हो रही है.

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close