केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा - पोलियो मुक्त भारत में ZEE मीडिया का बड़ा योगदान

ब्रह्म प्रकाश दुबे Wed, 16 Oct 2019-7:45 pm,

स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने कहा कि बिना पैसे के पोलियो मुक्त अभियान से जुड़कर ज़ी मीडिया ने मिसाल कायम की है.

नई दिल्ली: वर्ल्ड फूड डे (World Food Day) के मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्ष वर्धन (Dr. Harsh Vardhan) ने बुधवार को फूड सेफ्टी मित्र अभियान (Food Safety Mitra Scheme) की शुरुआत की है. फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी आफ इंडिया (FSSAI) के सहयोग से प्रशिक्षण पाने वाले 'फूड सेफ्टी मित्र' कार्पोरेट कंपनियों से लेकर आम आदमी के बीच जागरूकता फैलाने का काम करेंगे. डॉ. हर्ष वर्धन ने इस दौरान मीडिया से इस अभियान को सफल बनाने के लिए सहयोग मांगा. चर्चा के दौरान केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ZEE मीडिया (ZEE MEDIA) की भी तारीफ की. स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने कहा कि पोलियो मुक्त भारत में ZEE मीडिया का बड़ा योगदान है. बिना पैसे के अभियान से जुड़कर ज़ी मीडिया ने मिसाल कायम की है. 


स्वास्थ मंत्री ने देश में पल्स पोलियो अभियान की शुरूआत का जिक्र करते हुए कहा कि मुझे याद है कि ZEE TV ने देशभर से पल्स पोलियों को खत्म करने में उस वक्त बड़े पैमाने पर भागीदारी निभाई थी. देशभर से आए लोगों को संबोधित करते हुए डॉ हर्ष वर्धन ने पूरी घटना का जिक्र किया. डॉ हर्ष वर्धन ने बताया, जब मैं दिल्ली का स्वास्थ्य मंत्री था, तब उस वक्त ZEE TV के मालिक जवाहर गोयल (Jawahar Goel) को फोन किया और कहा कि वो पल्स पोलियो अभियान में मीडिया का सहयोग चाहते हैं और उनसे मिलने आना चाहते हैं. हम अधिकारियों के साथ जीटीवी के लारेंस रोड दफ्तर पर जवाहर गोयल जी से मिले और हमने पोलियो अभियान की उनको जानकारी दी."


डॉ. हर्ष वर्धन ने आगे बताया, "उन्होंने हमसे कहा कि ZEE TV पल्स पोलियो अभियान में पूरी तरह सरकार के साथ मिलकर काम करेगा. आपको सुनकर यकीन नहीं होगा कि ZEE TV ने स वक्त टीवी पर पल्स पोलियो अभियान का न सिर्फ खूब प्रचार किया, बल्कि इतने विज्ञापन टीवी पर मुफ्त दिखाए जिनकी कीमत 60 करोड़ से ज्यादा थी. लेकिन ZEE TV ने उसके लिए 60 पैसे भी नहीं लिए." 



खाने की बर्बादी रोकने के लिए सरकार ने कसी कमर
भारत सरकार की संस्था फूड सेफ्टी एंड स्टेंडर्ड अथॉरिटी आफ इंडिया (FSSAI) फूड सेफ्टी मित्रों को नियमित तौर पर अलग-अलग बैच में प्रशिक्षण देगी. इस प्रशिक्षण को कोई व्यक्तिगत तौर पर फसाई से ले सकता है. एनजीओ और विभिन्न संगठन जो फूड सेफ्टी को लेकर लोगों के बीच काम करना चाहे उन्हें फ्री प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जाएगा. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने कहा कि बेहतर खान-पान की वजह से कई बीमारियों से न सिर्फ बचा जा सकता है बल्कि खाने की बर्बादी को बड़े पैमाने पर बचाया जा सकता है. फूड सेफ्टी मित्र कैसे खाने की बर्बादी रोकी जाए, इसको लेकर लगातार देशभर में जन अभियान चलाएंगे. हर्ष वर्धन ने कहा इसी तरह देश में खाने की बर्बादी रोकने और सेहतमंद खाना पहुचाने के लिए ये अभियान जरूरी है जिसमें सबको जुड़ना चाहिए.


कुल मिलाकर, देश के लोगों में तेजी से बढ़ती खानपान की गलत आदतों, बिना साफ-सफाई वाले खाने की बढ़ती उपलब्धता और खाने की बर्बादी रोकने के लिए अब केंद्र सरकार ने कमर कस ली है. सरकार का इरादा लोगों के सहयोग से न सिर्फ खाने की बर्बादी रोकना है बल्कि रेहड़ी पटरी से लेकर होटल तक आपको सेहदमंद खाना कैसे मिले इसका भी पुख्ता इंतजाम करना है. यही वजह है कि सरकार ने अब इस अभियान की शुरुआत बड़े पैमाने पर की है.

ZEENEWS TRENDING STORIES

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by Tapping this link