Zee Rozgar Samachar

ज़ी स्पेशल

विश्व वैक्सीन विभाजन से 'वसुधैव कुटुंबकम' तक

विश्व वैक्सीन विभाजन से 'वसुधैव कुटुंबकम' तक

जहां कुछ देशों में आज भी कोरोना वैक्सीन का इंतजार हो रहा है. वहीं कुछ अमीर देश ऐसे हैं जिनके पास वैक्सीन का बड़ा स्टॉक है. कनाडा के पास भी इतनी बड़ी मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध है कि वो नागरिकों का 5 बार टीकाकरण कर सकता है.

अदिति त्यागी | Feb 1, 2021, 09:39 PM IST
Wuhan पहुंचकर WHO की टीम जांच में जुटी, Corona Virus की उत्पत्ति कहां हुई थी?

Wuhan पहुंचकर WHO की टीम जांच में जुटी, Corona Virus की उत्पत्ति कहां हुई थी?

कोराना वायरस (Corona Virus) कहां पैदा हुआ था इसका पता लगाने के लिए WHO की 10 सदस्यों की टीम चीन (China) के वुहान पहुंची. कोरोना की उत्पत्ति वुहान में हुई या नहीं इसका पता लगाने के लिए जांच कर रही है.

अन्य ज़ी स्पेशल

विश्व वैक्सीन विभाजन से 'वसुधैव कुटुंबकम' तक

विश्व वैक्सीन विभाजन से 'वसुधैव कुटुंबकम' तक

जहां कुछ देशों में आज भी कोरोना वैक्सीन का इंतजार हो रहा है. वहीं कुछ अमीर देश ऐसे हैं जिनके पास वैक्सीन का बड़ा स्टॉक है. कनाडा के पास भी इतनी बड़ी मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध है कि वो नागरिकों का 5 बार टीकाकरण कर सकता है.

अदिति त्यागी | Feb 1, 2021, 09:39 PM IST
Wuhan पहुंचकर WHO की टीम जांच में जुटी, Corona Virus की उत्पत्ति कहां हुई थी?

Wuhan पहुंचकर WHO की टीम जांच में जुटी, Corona Virus की उत्पत्ति कहां हुई थी?

कोराना वायरस (Corona Virus) कहां पैदा हुआ था इसका पता लगाने के लिए WHO की 10 सदस्यों की टीम चीन (China) के वुहान पहुंची. कोरोना की उत्पत्ति वुहान में हुई या नहीं इसका पता लगाने के लिए जांच कर रही है.

#TrustYourVaccine: जब मैंने लगवाई कोरोना वैक्सीन

#TrustYourVaccine: जब मैंने लगवाई कोरोना वैक्सीन

भारत सरकार द्वारा दो कोरोना वैक्सीन की मंजूरी के बाद जहां कुछ लोग खुश हैं तो वहीं कुछ लोग इसके साइड इफेक्ट्स की खबरों से चिंतित हैं. ऐसे में Zee News की रिपोर्टर पूजा मक्कड़ ने इस वैक्‍सीन को लगवाकर फैलाई जा रही अफवाहों को रोकने का काम किया. 

पूजा मक्कड़ | Jan 4, 2021, 09:21 PM IST
देश में अवॉर्ड वापसी के 'खेल' का क्‍या है पूरा सच?

देश में अवॉर्ड वापसी के 'खेल' का क्‍या है पूरा सच?

1954 से साहित्य अकादमी पुरस्कार की शुरूआत हुई थी. पिछले 66 सालों में लगभग 1900 साहित्य पुरस्कार दिए गए हैं और मात्र 39 लोगों ने ही अवॉर्ड वापसी का ऐलान किया. हर साल लगभग 2,400 लेखक, साहित्यकार और विद्वान साहित्य के चारों पुरस्कारों की चयन प्रक्रिया में शामिल होते हैं.  

 

विशाल पाण्डेय | Dec 24, 2020, 11:39 PM IST
बांग्लादेश को लुभा रहा है पाकिस्तान, क्या भारत के लिए बन सकता है खतरा?

बांग्लादेश को लुभा रहा है पाकिस्तान, क्या भारत के लिए बन सकता है खतरा?

सुरक्षा के दृष्टिकोण से यह देखना महत्वपूर्ण है कि ढाका में पाकिस्तानी उच्चायुक्त केवल औपचारिक बातचीत तक ही सीमित रहें और पहले की तरह ऐसी किसी भी गतिविधि में शामिल न हों, जो भारत के सुरक्षा संबंधी हितों के लिए हानिकारक है.

शांतनु मुखर्जी | Dec 7, 2020, 03:29 PM IST
ऑनलाइन एजुकेशन को दिलचस्प बनाने के 5 तरीके

ऑनलाइन एजुकेशन को दिलचस्प बनाने के 5 तरीके

कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो ऑनलाइन एजुकेशन को दिलचस्प बनाया जा सकता है. अब चूंकि स्टूडेंट्स घरों में हैं, उनको कई ऐसी एक्टिविटीज में शामिल किया जा सकता है जिससे उन्हें कुछ सीखने को मिले.

 

सकीना कासिम जैदी | Nov 19, 2020, 07:43 PM IST
पाकिस्तान में मोहाजिरों की दयनीय दशा का जिम्मेदार कौन?

पाकिस्तान में मोहाजिरों की दयनीय दशा का जिम्मेदार कौन?

शुरुआत में पाकिस्तान सरकार ने भारत से आने वाले सभी विस्थापितों के लिए मोहाजिर शब्द का इस्तेमाल किया था. उस वक्त तक मोहाजिर शब्द काफी सम्मानित था और विशेषाधिकार जैसा माना जाता था. 

शांतनु मुखर्जी | Nov 18, 2020, 11:22 PM IST
श्रीराम के संग मां काली, महावीर और पांडवों से जुड़ी दिवाली पर ऐसे सुरक्षित कीजिए भविष्य

श्रीराम के संग मां काली, महावीर और पांडवों से जुड़ी दिवाली पर ऐसे सुरक्षित कीजिए भविष्य

तमाम महत्वपूर्ण संयोग और परंपराओं को समेटने वाला यह त्यौहार एक सकारात्मक उर्जा उत्पन्न करता है, जिसकी इस कोरोना काल में सबसे ज्यादा जरूरत है. शायद यही वजह है कि दिवाली की जगमग में पिछले सालों के मुकाबले इस बार कोई खास कमी नहीं आनी चाहिए

अभिषेक मेहरोत्रा | Nov 12, 2020, 03:24 PM IST
पैरेंट्स की इन 'दिखावटी समस्याओं' का बच्चों पर पड़ रहा नकारात्मक असर

पैरेंट्स की इन 'दिखावटी समस्याओं' का बच्चों पर पड़ रहा नकारात्मक असर

ध्यान रहे, बच्चे कोरे कागज हैं. गीली मिट्टी हैं. आप जो चाहें उन्हें आकार दे सकते हैं. उन पर लिख सकते हैं. अगर ऐसा नहीं हो पाता है तो कहीं न कहीं, हमसे चूक हो रही है.

दिनेश पाठक | Nov 12, 2020, 03:04 PM IST
बिहार में तो असली माहौल ऐसा था, जानें ग्राउंड रिपोर्टिंग के रोचक किस्से

बिहार में तो असली माहौल ऐसा था, जानें ग्राउंड रिपोर्टिंग के रोचक किस्से

चुनावी कवरेज के अपने अंतिम पड़ाव पर मैं वाल्मीकिनगर के थरूहट इलाके में चौपाल करने पहुंचा. चौपाल के दौरान जब एक महिला से मैंने भोजपुरी में पूछा कि "अबकी बार बिहार में केकर सरकार" महिला ने सीधा जवाब दिया कि 15 साल पहले 5 बजे के बाद हमनी घर से न निकलत रहनी. अब 8 बजे राउर प्रोग्राम में बैठल बानी...हमनी के त नीतीश सरकार चाही.

रवि त्रिपाठी | Nov 12, 2020, 01:04 PM IST
आप किस रसोई से खाते हैं, भगवान की, इंसान की या फिर शैतान की?

आप किस रसोई से खाते हैं, भगवान की, इंसान की या फिर शैतान की?

अधिकांश बीमारियां हमारी जीवन शैली, खान-पान की आदतों से जुड़ी हैं. वर्तमान में ‘शैतान की रसोई’ पर निर्भरता का ट्रेंड चल रहा है.

अंशुमान कुमार | Nov 11, 2020, 10:57 AM IST
फ्रांस के नाम पर बांग्लादेश में हिंदुओं को निशाना क्यों बनाया गया?

फ्रांस के नाम पर बांग्लादेश में हिंदुओं को निशाना क्यों बनाया गया?

फ्रांस के खिलाफ सड़कों पर उतरे कट्टरपंथी अंधश्रद्धा का शिकार हैं, लेकिन बांग्लादेश सरकार यह भूल नहीं कर सकती. 3 नवंबर को बांग्लादेश के विदेश सचिव मसूद बिन मोमन (Masood bin Momen) के बयान से भी कुछ ऐसा ही प्रतीत होता है.

शांतनु मुखर्जी | Nov 7, 2020, 02:13 PM IST
IPL से जुड़ने के बाद राह से भटक गए थे Virat Kohli, इस शख्स ने संभाला

IPL से जुड़ने के बाद राह से भटक गए थे Virat Kohli, इस शख्स ने संभाला

एक रोचक बात यह है कि विराट का टेस्ट, वन डे और T20, तीनों में औसत 50 रन से ज्यादा का है. वहीं, सचिन और पॉन्टिंग का तीनों फॉर्मेट में मिलाकर औसत 50 रन से कम है. विराट फिटनेस के लिहाज से फिलहाल सचिन और पॉन्टिंग से बेहतर हैं. 

फ्रांस और वियना में हिंसा को अंजाम देने वालों को कहां से मिल रहा समर्थन?

फ्रांस और वियना में हिंसा को अंजाम देने वालों को कहां से मिल रहा समर्थन?

धर्म के नाम पर हुई इस हत्या के बाद फ्रांस के नीस शहर को भी इस्लामिक आतंकवाद का सामना करना पड़ा. यहां भी कई लोगों की जान गई. लगातार होने वाले ये घिनौने कृत्य याद दिलाते हैं कि यूरोप और खासतौर पर फ्रांस बहुत तेजी से एक असुरक्षित मोड में आ रहा है.

WION | Nov 4, 2020, 01:28 PM IST
एक पुरुष का पहला करवा चौथ व्रत

एक पुरुष का पहला करवा चौथ व्रत

नोएडा में न्यूक्लियर फैमिली में रहता हूं, तो पत्नी के पहले करवा चौथ पर एक बड़ी समस्या से रूबरू हुआ. समस्या यह थी कि पत्नी के साथ करवा चौथ की शाम करवा कौन बदलेगा?

बेटा-बेटी गुमसुम हों तो हो जाएं सावधान

बेटा-बेटी गुमसुम हों तो हो जाएं सावधान

तकनीकी चीजों में उलझा बच्चा खुद से भी बात नहीं करता. उसके चेहरे पर कुछ एक्सप्रेशन जरूर आता हुआ दिखता है. मम्मी-पापा से उसकी बात खाना-पीना, कॉपी-किताब, चॉकलेट-आइसक्रीम जैसी चीजों के लिए होती है. धीरे-धीरे वह अपनी एक अलग दुनिया बना लेता है 

दिनेश पाठक | Nov 3, 2020, 10:36 PM IST
Zee News के जरिए मिलेगा आपको रोजगार, जानें कहां हैं नौकरियों के मौके

Zee News के जरिए मिलेगा आपको रोजगार, जानें कहां हैं नौकरियों के मौके

परिवार में जब किसी एक सदस्य का भी रोजगार छिन जाता है तो उस पूरे परिवार पर संकट आ जाता है और पूरा परिवार टूट जाता है. हम परिवारों को बिखरने से रोकने के लिए एक छोटी सी कोशिश कर रहे हैं और हम चाहते हैं कि रोजगार से जुड़ी आपकी चिंताओं का जितना हो सके उतना समाधान दें.

सुधीर चौधरी | Oct 30, 2020, 06:18 PM IST
अमेरिकी चुनाव में स्वतंत्रता का मुद्दा क्यों है सबसे महत्वपूर्ण?

अमेरिकी चुनाव में स्वतंत्रता का मुद्दा क्यों है सबसे महत्वपूर्ण?

वो ‘नुकसान’ जिसके बारे में डेमोक्रेट्स या ट्रंप विरोधी रिपब्लिकन दावा करते हैं कि ट्रम्प ( President Donald Trump) ने किया है, दरअसल वह नुकसान देश का नहीं किया है, बल्कि कुलीन तंत्र की ताकत का किया है, 

आप अपने बच्चों को कितना जानते हैं?

आप अपने बच्चों को कितना जानते हैं?

पिता-पुत्र या पिता-पुत्री के संवाद में कोई भी लगाव-छिपाव न रहे, माहौल का ऐसा बना देना पैरेंट्स की जिम्मेदारी है. जिस दिन कोई भी पिता यह कर लेगा, आधी समस्या खत्म हो जाएगी, मैं ऐसा दावा नहीं करता. समस्या फिर भी आएगी. संभव है कि कोई ऐसी समस्या आए, जिससे आपका कभी सामना ही न हुआ हो.

दिनेश पाठक | Oct 27, 2020, 09:13 PM IST
महंगी हुई है प्याज.....थोड़ा थोड़ा खाया करो, कुछ इस अंदाज में बदल गए हैं डायलॉग्स

महंगी हुई है प्याज.....थोड़ा थोड़ा खाया करो, कुछ इस अंदाज में बदल गए हैं डायलॉग्स

अब तक गज़ल प्रेमी यही गा गा कर काम चला रहे थे कि ‘मंहगी हुई शराब कि थोड़ी थोड़ी पिया करो.’अब सुर बदलने पड़ रहे हैं और वे चुपके चुपके गुनगुना रहें हैं, महंगी हुई प्याज ( Onion) की थोड़ी थोड़ी खाया करो'. 

मदन गुप्ता सपाटू | Oct 26, 2020, 11:14 AM IST