शिवसेना ने उठाया सवाल, सदस्यता के बिना राणे कैसे हो सकते हैं बीजेपी के राज्यसभा उम्मीदवार

शिवसेना ने सवाल किया है कि महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे महाराष्ट्र से बीजेपी के राज्यसभा उम्मीदवार कैसे हो सकते हैं

ज़ी न्यूज़ डेस्क ज़ी न्यूज़ डेस्क | Updated: Mar 14, 2018, 05:39 AM IST
शिवसेना ने उठाया सवाल, सदस्यता के बिना राणे कैसे हो सकते हैं बीजेपी के राज्यसभा उम्मीदवार
नारायण राणे को बीजेपी की ओर से राज्यसभा उम्मीदवार बनाया गया है. (फाइल फोटो)

मुंबईः शिवसेना ने मंगलवार (13 मार्च) को सवाल किया कि महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे महाराष्ट्र से बीजेपी के राज्यसभा उम्मीदवार कैसे हो सकते हैं जब उन्होंने इस पार्टी की सदस्यता ग्रहण नहीं की है. राणे 2005 में शिवसेना से अलग हुए थे और कांग्रेस में शामिल हो गए थे. पिछले साल सितंबर में कांग्रेस से भी अलग हो गए और महाराष्ट्र स्वाभिमान पक्ष का गठन कर लिया और राजग का समर्थन करने लगे.

शिवसेना नेता अनिल परब ने कहा कि नारायण राणे ने किस पार्टी की तरफ से नामांकन दाखिल किया है? अगर भाजपा ने उनको सदस्य बनाया है तो उन्होंने बीजेपी की सदस्यता कब स्वीकार की है? उन्होंने कहा कि यह कैसे हो सकता है कि किसी एक पार्टी का अध्यक्ष किसी दूसरी पार्टी का सदस्य बन जाए? नियमों के मुताबिक अगर कोई पार्टी किसी दूसरी पार्टी के अध्यक्ष को टिकट देना चाहती है तो उस व्यक्ति को टिकट देने वाली पार्टी की प्राथमिक सदस्यता लेनी होती है. अगर ऐसा नहीं है तो वह 'बी' फॉर्म नहीं भर सकता.

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र : यवतमाल के गांवों में दूषित पानी से 14 की मौत, 38 हॉस्पिटल में भर्ती

7 उम्मीदवारों में बीजेपी के उम्मीदवार राणे सबसे अमीर
महाराष्ट्र से राज्यसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने वाले सात उम्मीदवारों में बीजेपी के उम्मीदवार नारायण राणे सबसे अमीर हैं. उनके पास करीब 88 करोड़ रुपये की संपत्ति हैं. महाराष्ट्र से राज्यसभा की छह सीटों के लिए चुनाव हो रहा है. बीजेपी ने चार उम्मीदवार उतारे हैं और कांग्रेस का एक उम्मीदवार है. राकांपा और शिवसेना ने अपने मौजूदा सांसदों को उतारा है.

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र सरकार ने वापस लिए 'भीमा-कोरेगांव हिंसा' के मामले, पीड़ितों को मिलेगा मुआवजा

चुनाव आयोग के समक्ष सौंपे गए हलफनामे में राणे ने 87.98 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की है. राणे के पास छह बंगले, तीन फ्लैट और दो वाणिज्यिक संपत्तियां हैं. आठ स्थानों पर उनके पास कृषि भूमि है. बीजेपी के एक और उम्मीदवार वी मुरलीधर नेमात्र 30 लाख रुपये की संपत्ति घोषित की है.