महिला पैसेंजर का आरोप, 'मुझे Air Asia के क्रू ने गलत तरीके से पकड़ा', एयरलाइंस ने नकारा

पीड़िता का कहना है कि जब उसने फ्लाइट के टॉयलेट में गंदगी की शिकायत की तो क्रू ने उसे धमकी दी और गलत तरीके से पकड़ा.

महिला पैसेंजर का आरोप, 'मुझे Air Asia के क्रू ने गलत तरीके से पकड़ा', एयरलाइंस ने नकारा
महिला रांची से बेंगलुरु जा रही थी...(फोटो साभार: ANI)

नई दिल्ली: इंडिगो के स्टाफ द्वारा अपने पैसेंजर के साथ की गई हाथापाई का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था, एयर एशिया के स्टाफ पर एक महिला पैसेंजर ने बदसलूकी का आरोप लगाया है. महिला रांची से बेंगलुरु जा रही थी. पीड़िता का कहना है कि जब उसने फ्लाइट के टॉयलेट में गंदगी की शिकायत की तो क्रू ने उसे धमकी दी और गलत तरीके से पकड़ा. घटना तीन नवंबर की बताई जा रही है. महिला ने एयर एशिया के तीन कर्मचारियों के खिलाफ बेंगलुरु में रिपोर्ट दर्ज कराई है. रिपोर्ट में कहा गया है कि इन तीनों कर्मचारियों ने उसके साथ खराब व्यवहार किया. पीड़ित महिला के मुताबिक, आरोपियों ने विमान के अलावा बेंगलुरु एयरपोर्ट पहुंचने के दौरान भी उसका उत्पीड़न किया. पीड़िता का कहना है कि उसे पुलिस के सामने भी  अपमानित किया. 

उधर, एयर एशिया ने एक बयान जारी करके महिला यात्री के आरोपों को नकार दिया है. एयर एशिया के प्रवक्ता ने एक बयान जारी कर कहा कि उसने उपद्रवी यात्रियों के लिए जो मानक प्रक्रिया है, उसी का पालान किया है. बयान में कहा गया कि एयरलाइन ने महिला के खिलाफ एयर पोर्ट पुलिस में शिकायत दर्ज कराई और इस पूरे मामले को डीजीसीए को रिपोर्ट किया.  

एयर एशिया ने घटना का विवरण देते हुए कहा, "जब रांची एयरपोर्ट से विमान टेक-ऑफ करने वाला था तो हमारे सीनियर केबिन कू ने पाया कि आरोप लगाने वाली महिला यात्री फोन पर बात कर रही थी. क्रू ने जब फोन स्विच करने के लिए कहा तो महिला यात्री ने गाली-गलौज किया. किसी तरह से उसे समझा-बुझाकर शांत कराया. हालांकि महिला यात्री लगातार गालियां देती रही. चूंकि महिला यात्री अकेले बेंगलुरू जा रही थी तो ऐसे में हैदराबाद में विमान की लैंडिंग पर कैप्टन ने उन्हें शांत रहने का वादा लेकर आगे जाने देने की बात कही. बेंगलुरू पहुंचने पर महिला यात्री को क्रू कोच के साथ-साथ सुरक्षा स्टाफ के साथ एयरलाइन के पैसेजर आगमन हॉल पर लाया गया. बाद में उसे एयरलाइंस की लेडी सिक्योरीटी स्टाफ और दो सीआईएसएफ कमिर्यों के साथ एयरपोर्ट पुलिस स्टेशन ले जाया गया."  

By continuing to use the site, you agree to the use of cookies. You can find out more by clicking this link

Close