अमेरिका में ठंड का कहर जारी, कई इलाकों में मंगल ग्रह से भी ज्यादा ठंड

Last Updated: Wednesday, January 8, 2014 - 16:14

ज़ी मीडिया ब्यूरो
शिकागो: आर्कटिक क्षेत्र से चलने वाली बर्फीली हवाओं के चलते ठंड इतनी बढ़ गई है कि पृथ्वी की ठंड की तुलना मंगल ग्रह से जाने लगी है। विशेषज्ञों का कहना है कि अमेरिका में कुछ दिनों में जिस तरह से ठंड में इजाफा हुआ है वह मंगल ग्रह से भी ज्यादा है। अमेरिका में ठंड से 21 लोगों की मौत हो गई है।
कड़ाके की ठंड ने तापमान गिरने का रिकॉर्ड तोड़ दिया। मोनटाना में तापमान माईनस 52 डिग्री सेल्सियश तक जा पहुंचा। वहीं, माईनस 40 से 50 डिग्री सेल्शियस के बीच का तापमान इंडियाना, लोवा, मिशिगन, मिनीसोटा, नार्थ डकोटा, ओहियो, वर्जिनिया व अन्य में जगहों पर रहा। मिनिसोटा के ब्रिमसन में तापमान शून्य से 40 डिग्री सेल्सियस नीचे पहुंच गया, जो आर्कटिक की खाड़ी में स्थित कनाडा के न्यूनतम तापमान शून्य से 35 डिग्री सेल्सियस नीचे से भी कम है। ब्राउनविले, टेक्सास और मध्य फ्लोरिडा में आने वाले दिनों में और सर्दी पड़ने की आशंका है। मौसम विभाग ने बताया कि मध्य तथा उत्तरी अमेरिका में तापमान शून्य से 51 डिग्री नीचे रिकॉर्ड किया गया है। आधिकारिक सूचना के अनुसार इलिनियोस में 7 और इंडियाना में 6 लोगों की ठंड की वजह से मौत हो गई। अलग-अलग इलाकों अब तक कुल 21 लोगों की मौत हुई है।
कड़ाके की सर्दी की वजह से हजारों उड़ानें रद्द कर दी गई हैं। तमाम स्कूल और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद कर दिए गए हैं। अमरीका में पिछले दो दशकों के दौरान सबसे कम तापमान दर्ज किया गया है। शिकागो समेत कई प्रांतों में कल से ही स्कूल बंद हैं। न्यूयार्क के गवर्नर एंड्रयू क्युमो ने आपात स्थिति घोषित कर दी है। उन्होंने कहा कि भीषण ठंड के कारण पश्चिमी न्यूयार्क के कुछ हिस्से बंद कर दिए गए हैं। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक खराब मौसम के कारण अब तक चार हजार 392 उड़ानें रद्द कर दी गई हैं।



First Published: Wednesday, January 8, 2014 - 11:35


comments powered by Disqus