पुडुचेरी: CM नारायणसामी ने गृह और वित्त विभाग अपने पास रखा

पुडुचेरी: CM नारायणसामी ने गृह और वित्त विभाग अपने पास रखा

मुख्यमंत्री वी नारायणसामी केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी की सरकार में गृह, योजना और वित्त विभाग समेत अन्य विभाग अपने पास रखेंगे। नारायणसामी नीत कांग्रेस मंत्रिमंडल के शपथ लेने के दो दिन बाद मुख्य सचिव मनोज परीदा ने एक विज्ञप्ति में बताया कि वह सामान्य प्रशासन, सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण, हिंदू धार्मिक संस्थान, बंदरगाह, विधि और उन शेष विषयों को भी देखेंगे जो किसी अन्य मंत्री को नहीं आवंटित किए गए हैं।

पुडुचेरी: उपराज्यपाल किरण बेदी ने VIP कारों में सायरन के इस्तेमाल पर लगाया प्रतिबंध

पुडुचेरी: उपराज्यपाल किरण बेदी ने VIP कारों में सायरन के इस्तेमाल पर लगाया प्रतिबंध

उपराज्यपाल किरण बेदी ने पुडुचेरी में वीआईपी कारों में सायरन के इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया है। इस कदम को मुख्यमंत्री वी नारायणसामी का भी समर्थन मिला है। नारायणसामी ने कहा कि इसका लक्ष्य केंद्रशासित प्रदेश को खुशहाल बनाना है।

नारायणसामी ने पुडुचेरी के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली, राज्य के दसवें CM बने

नारायणसामी ने पुडुचेरी के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली, राज्य के दसवें CM बने

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री वी नारायणसामी ने पुडुचेरी के दसवें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली। समुद्र तट के निकट गांधी तिदाल में उपराज्यपाल किरण बेदी ने नारायणसामी और पांच अन्य मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलायी। मुख्यमंत्री के अलावा ए नमाशिवयम, मल्लादी कृष्ण राव, एम ओ एच एफ शाहजहां, एम कंडासामी और आर कमलाकन्नन ने शपथ ग्रहण की। राव ने तेलुगू और अन्य लोगों ने तमिल में शपथ ली।

पुडुचेरी: कांग्रेस नेता नारायणसामी ने सरकार बनाने का दावा पेश किया

पुडुचेरी: कांग्रेस नेता नारायणसामी ने सरकार बनाने का दावा पेश किया

कांग्रेस के नेता वी नारायणसामी ने पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी से मुलाकात की और केंद्रशासित प्रदेश में सरकार बनाने का दावा औपचारिक तौर पर पेश किया।उन्हें शनिवार को 15 सदस्यीय कांग्रेस विधायक दल का नेता चुना गया था। पार्टी के पास 30 सदस्यीय विधानसभा में द्रमुक के दो सदस्यों का समर्थन भी है।

तेलंगाना विधेयक में सभी पक्षों का ध्यान रखा: सरकार

लोकसभा में तेलंगाना विधेयक पारित होने को कांग्रेस पार्टी की प्रतिबद्धता से जोड़ते हुए सरकार ने मंगलवार को कहा कि ऐसा करते समय मंत्रियों समेत सभी पक्षों के हितों को ध्यान में रखा गया है।

अन्‍ना बोले-लोकतंत्र से धोखा कर रही सरकार, अनशन खत्‍म करने की केंद्र की अपील ठुकराई

अन्ना हजारे ने अनशन खत्म करने की केंद्र की अपील को गुरुवार को खारिज कर दिया और कहा कि लोकपाल विधेयक पर केंद्र का रुख ‘लोकतंत्र के साथ छलावा’ है। वह पिछले तीन दिनों से संसद में लोकपाल विधेयक को जल्द पारित करने की मांग को लेकर अनशन पर हैं।

कोयला घोटाला: 14 मामलों की जांच कर रही सीबीआई

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने कोयला ब्लाक आवंटन घोटाले में कथित भ्रष्टाचार के संबंध में कुल 14 नियमित मामले और तीन प्रारंभिक जांच दर्ज की हैं।

लोकपाल विधेयक पर सरकार गंभीर : नारायणसामी

प्रधानमंत्री कार्यालय में मंत्री वी.नारायणसामी ने बुधवार को कहा कि सरकार लोकपाल विधेयक को पारित कराने के लिए गंभीर कदम उठा रही है लेकिन विपक्ष संसद की कार्यवाही नहीं चलने दे रहा है।

कोलगेट: मंत्रियों ने किया पीएम का बचाव, सीबीआई ने दी नियमों की दुहाई

कोयला ब्लॉक आवंटन में उद्योगपतियों के खिलाफ ताजा प्राथमिकी को न्यायोचित ठहराते हुए केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) का कहना है कि जांच एजेंसी केवल सर्वोच्च न्यायालय के दिशा निर्देशों का पालन कर रही है। वहीं, यूपीए सरकार के कई मंत्री कोयला आवंटन मामले में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के बचाव में उतर गए हैं।

ऐतिहासिक रहा संसद का मानसून सत्र : नारायणसामी

प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री वी. नारायणसामी ने रविवरा को कहा कि हाल ही में संपन्न हुआ इस वर्ष संसद का मानसून सत्र ऐतिहासिक रहा है क्योंकि इस दौरान खाद्य सुरक्षा विधेयक सहित कुल 15 विधेयक पारित हुए हैं।

नारायणसामी के खिलाफ दायर अर्जी खारिज

मद्रास हाईकोर्ट ने लिट्टे के मारे गए प्रमुख वी. प्रभाकरण और ‘नाम तमिलार’ पार्टी अध्यक्ष सीमन के खिलाफ कथित टिप्पणियों के लिए केंद्रीय मंत्री वी. नारायणसामी के खिलाफ पुलिस को प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिए जाने की मांग करने वाली जनहित याचिका को खारिज कर दिया है।

कोलगेट जांच: नारायणसामी से मिले सिन्हा, की चर्चा

कोयला ब्लॉक आवंटन की जांच पर उत्पन्न विवाद के बीच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के निदेशक रणजीत सिन्हा ने शुक्रवार को कार्मिक राज्य मंत्री वी नारायणसामी के साथ इस केंद्रीय जांच एजेंसी के कामकाज से जुड़े विभिन्न मामलों पर चर्चा की।

नारायणसामी से भेंट नियमित थी : सीबीआई प्रमुख

सीबीआई के निदेशक रंजीत सिन्हा ने कार्मिक मामलों के केंद्रीय राज्य मंत्री वी. नारायणसामी से गुरुवार को हुई अपनी मुलाकात का बचाव करते हुए शुक्रवार को कहा कि यह नियमित मुलाकात थी।

गोटाबाया की कथित टिप्पणी मंजूर नहीं:नारायणसामी

भारत ने श्रीलंका के एक शीर्ष अधिकारी द्वारा उनके देश (श्रीलंका) में आतंकवाद के बारे में की गई कथित टिप्पणी को आज नामंजूर करते हुए कहा कि वहां तमिलों को अधिकार नहीं दिए जाने के चलते सशस्त्र संघर्ष हुआ।

संसद में 22 अप्रैल के बाद होगी लोकपाल पर चर्चा

केंद्रीय कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्री वी नारायणसामी ने रविवार को कहा कि भ्रष्टाचार निरोधी लोकपाल विधेयक पर बजट सत्र के दूसरे चरण में अगले महीने चर्चा होगी।

शिंदे के इस्तीफे की मांग गैरजरूरी: नारायणसामी

केंद्रीय मंत्री वी. नारायणसामी ने केन्द्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे के ‘हिंदू आतंकवाद’ के बयान पर शिंदे के इस्तीफे की मांग खारिज करते हुए आज कहा कि किसी भी रूप में आतंकवाद निंदनीय है।

केंद्र ने जयललिता के आरोपों को किया खारिज

केंद्र ने तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता के इन आरोपों को खारिज कर दिया कि अहम मुद्दों पर नकारात्मक रूख अपनाया जा रहा है और कहा कि राज्य को पर्याप्त वित्तीय सहायता मुहैया कराया गया है।

कड़ी मशक्कत के बाद CBI की शक्तियों पर बनी सहमति : नारायणसामी

केंद्रीय मंत्री वी. नारायणसामी ने आज कहा कि लोकपाल विधेयक में सीबीआई की शक्तियों के बारे में ‘सहमति’ तक पहुंचने के लिए सांसदों और सिविल सोसाइटी के सदस्यों के साथ काफी मशक्कत की गई।

CBI निदेशक को निष्पक्ष तरीके से चुना गया : सामी

सीबीआई के नए निदेशक के पद पर रंजीत सिन्हा की नियुक्ति के फैसले को रद्द करने की भाजपा की मांग पर कार्मिक मामलों के राज्य मंत्री वी. नारायणसामी ने कहा कि उनका चयन उचित प्रक्रिया का पालन करते हुए निष्पक्ष तरीके किया गया है।

‘टूजी नुकसान के आंकड़ों पर स्पेष्टीरकरण दे कैग’

नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) पर सरकार के हमले को जारी रखते हुए केंद्रीय मंत्री वी नारायणसामी ने आज कहा कि शीर्ष आडिटर को टू जी स्पेक्ट्रम के आवंटन से खजाने को 1.76 लाख करोड़ रुपये के अनुमानित नुकसान के अपने आकलन पर स्पष्टीकरण देना चाहिए।

पीटीआई ने नारायणसामी को किया झूठा साबित

प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री वी. नारायणसामी के लिए शर्मिंदगी की बात है क्योंकि समाचार एजेंसी पीटीआई ने उनके झूठ का खुलासा किया है। एजेंसी ने अपने संवाददाता के साथ मंत्री की हुई बातचीत का वह टेप आज जारी कर दिया। जिसमें मंत्री कहते हैं कि सरकार सीएजी को बहुसदस्यीय बनाने के प्रस्ताव पर सक्रियता से विचार कर रही है।