close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

मोदी मंत्रिमंडल में बिहार के 6 सांसद बने मंत्री, रामकृपाल यादव, रूडी को नहीं मिला मौका

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में बिहार से इस बार छह लोगों को स्थान दिया गया है. इनमें बीजेपी के पांच सांसदों को जगह मिली है. हालांकि, रामकृपाल यादव और राजीव प्रताप रूडी को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली. राधामोहन सिंह को भी मोदी कैबिनेट में जगह नहीं मिली. 

मोदी मंत्रिमंडल में बिहार के 6 सांसद बने मंत्री, रामकृपाल यादव, रूडी को नहीं मिला मौका
बीजेपी के बिहार प्रदेश अध्यक्ष नित्यांनद राय को भी मोदी मंत्रिमंडल में पहली बार स्थान दिया गया है.

पटना: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में बिहार से इस बार छह लोगों को स्थान दिया गया है. इनमें बीजेपी के पांच सांसदों को जगह मिली है, जबकि छह सांसदों वाली पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के प्रमुख रामविलास पासवान ने मंत्रिमंडल में फिर जगह बनाने में सफलता पाई है. हालांकि, रामकृपाल यादव और राजीव प्रताप रूडी को मंत्रिमंडल में जगह नहीं मिली. राधामोहन सिंह को भी मोदी कैबिनेट में जगह नहीं मिली. 

बीजेपी के बिहार प्रदेश अध्यक्ष नित्यांनद राय को भी मोदी मंत्रिमंडल में पहली बार स्थान दिया गया है. वर्ष 2016 में भाजपा के अध्यक्ष बनने के बाद इन्होंने भाजपा को गुटबाजी से मुक्त किया. वर्ष 1981 में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता के रूप में राजनीति पारी की शुरुआत करने वाले राय 2014 के लोकसभा चुनाव में उजियारपुर लोकसभा सीट से सांसद बने और इस बार भी उन्होंने राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी (रालोसपा) के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा को बड़े अंतर से पराजित कर लोकसभा पहुंचे हैं. 

मोदी के दूसरी बार बने मंत्रिमंडल में एलजेपी के प्रमुख रामविलास पासवान को फिर से स्थान मिला है. पिछली सरकार में भी पासवान खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री थे. 50 सालों से राजनीति कर रहे रामविलास अब तक केंद्र में रेल मंत्री, कोयला मंत्री और इस्पात मंत्री का भी दायित्व संभाल चुके हैं. हिंदुत्ववादी छवि वाले भाजपा नेता गिरिराज सिंह को एकबार फिर मोदी मंत्रिमंडल में स्थान दिया गया है. पिछली सरकार में सिंह राज्यमंत्री थे, लेकिन इस बार उन्हें पदोन्नति देते हुए कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. 

 

अपने बयानों से विवादों में रहने वाले सिंह इस चुनाव में नवादा से लड़ना चाहते थे, लेकिन उन्हें बेगूसराय से टिकट दिया गया. बेगूसराय से उन्होंने वामपंथी दलों के साझा उम्मीदवार कन्हैया कुमार को चार लाख से ज्यादा मतों से पराजित किया है. गिरिराज सिंह पिछली मोदी सरकार में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय में राज्यमंत्री थे.

पटना साहिब से फिल्म अभिनेता और कांग्रेस प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा को हराकर लोकसभा में पहुंचे बीजेपी नेता रविशंकर प्रसाद को भी नरेंद्र मोदी की सरकार में स्थान बनाने में सफल हुए हैं. प्रसाद पिछली सरकार में केंद्रीय कानून मंत्री थे. वह अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में भी मंत्री पद संभाल चुके हैं. 

बिहार के आरा से सांसद राजकुमार आरके सिंह नए मंत्रिमंडल में भी शामिल हुए हैं. भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी रहे सिंह पिछली सरकार में भी मंत्री थे. सिंह केंद्रीय गृह सचिव रह चुके हैं. सिंह इस बार भाकपा (माले) के प्रत्याशी राजू यादव को बड़े अंतर से पराजित कर लोकसभा पहुंचे हैं. नरेंद्र मोदी के मंत्रिमंडल में बक्सर से दूसरी बार जीतकर लोकसभा पहुंचे अश्विनी चौबे को फिर से स्थान दिया गया है. पिछली सरकार में चौबे केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री थे. बिहार सरकार में मंत्री पद संभाल चुके चौबे मूल रूप से भागलपुर के रहने वाले हैं.