close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

अभिनेता आशीष विद्यार्थी पहुंचे बिहार, युवाओं से कहा- 'लाइफ में कुछ भी नहीं होता परमानेंट'

कौशल महोत्सव की शुरुआत आज पहले दिन ब़ॉलीवुड में कई फिल्मों में विलेन की भूमिका निभा चुके आशीष विद्यार्थी के मोटिवेशनल स्पीच से हुई.

अभिनेता आशीष विद्यार्थी पहुंचे बिहार, युवाओं से कहा- 'लाइफ में कुछ भी नहीं होता परमानेंट'
बिहार में कौशल महोत्सव में आशीष विद्यार्थी पहुंचे थे.

पटनाः बॉलीवुड में कई फिल्मों में विलेन की भूमिका निभा चुके आशीष विद्यार्थी एक शानदार मोटिवेशनल स्पीकर भी हैं. आज उन्होंने राजधानी पटना स्थित बापू सभागार में युवाओं की एक बड़ी फौज को संबोधित किया और इस दौरान उनसे सवाल भी पूछे गए. आशीष विद्यार्थी ने कहा कि, हर शख्स में आग और भूख होनी चाहिए और जीवन में कुछ भी स्थायी नहीं होता है.

बिहार सरकार के श्रम संसाधन विभाग की तरफ से 13 से 15 जुलाई तक कौशल महोत्सव की शुरुआत हुई. कौशल महोत्सव की शुरुआत आज पहले दिन ब़ॉलीवुड में कई फिल्मों में विलेन की भूमिका निभा चुके आशीष विद्यार्थी के मोटिवेशनल स्पीच से हुई. आशीष विद्यार्थी जानवर, क्या यही प्यार है, जोरू का गुलाम जैसी फिल्मों के साथ दक्षिण भारतीय फिल्मों में भी काम कर चुके हैं.

युवाओं को संबोधित करते हुए आशीष विद्यार्थी ने कहा कि, हर शख्स में आग और भूख होनी चाहिए और ये कभी खत्म नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कहा किसी भी काम को नहीं करने के दो हजार बहाने हो सकते हैं, लेकिन काम करने के लिए सिर्फ एक वजह होती है. युवाओं को डिग्री होल्डर नहीं बल्कि हुनरमंद होना चाहिए. हुनर से ही आपको पहचान मिलेगी.

सबसे बड़ी बात जो आशीष विद्यार्थी ने कही वो यह थी कि इस दुनिया में कुछ भी मुफ्त नहीं मिलता और लाइफ में परमानेंट कुछ भी नहीं है. बिना एंट्रेस एग्जाम दिए भी सफल हो सकते हैं. मनोज वाजपेयी का उदाहरण देते हुए कहा कि, वाजपेयी एक नहीं बल्कि तीन-तीन बार नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा की परीक्षा में फेल हुए बावजूद आज वो बेहतरीन अभिनेता है.

आशीष विद्यार्थी ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि, make yourself available to the universe यानि आप इस दुनिया के लिए उपयोगी हों. आशीष विद्यार्थी के मुताबिक, सफलता के लिए आग होनी चाहिए और आप बराक ओबामा के साथ ही पड़ोसी से भी सीख सकते हैं. आशीष विद्यार्थी से कार्यक्रम में शामिल हुए छात्र-छात्राओं ने भी सवाल पूछे. आशीष विद्यार्थी ने उन सवालों के जवाब भी दिए.