Jharkhand Election: BJP ने दिए सबसे ज्यादा करोड़पतियों को टिकट, दूसरे नंबर पर JVM

 Jharkhand Assembly Election 2019:  पहले चरण में, बीजेपी के 13 उम्मीदवारों में से 10 'करोड़पति' हैं. वहीं, जेवीएम-पी और कांग्रेस में से सात और पांच उम्मीदवार करोड़पति हैं

Jharkhand Election: BJP ने दिए सबसे ज्यादा करोड़पतियों को टिकट, दूसरे नंबर पर JVM
बीजेपी के सबसे उम्मीदवार करोड़पति हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

रांची: झारखंड में 30 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election) के पहले चरण में सबसे अधिक 'करोड़पति' उम्मीदवार सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (BJP) के हैं. पहले चरण में 13 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा. बीजेपी और झारखंड विकास मोर्चा-प्रजातांत्रिक (JVM) ने सभी 13 सीटों पर उम्मीदवार उतारे हैं. कांग्रेस (Congress), झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) और आरजेडी (RJD) ने क्रमश: छह, चार और तीन सीटों पर उम्मीदवार खड़े किए हैं.

बता दें कि जेएमएम, कांग्रेस और आरजेडी का राज्य विधानसभा चुनाव में गठबंधन है. पहले चरण में, बीजेपी के 13 उम्मीदवारों में से 10 'करोड़पति' हैं. डाल्टनगंज सीट से कांग्रेस उम्मीदवार केएन त्रिपाठी सबसे अमीर उम्मीदवार हैं. उनकी संपत्ति 53 करोड़ रुपए की है. सबसे गरीब उम्मीदवार जेवीएम-पी के हैं. मनिका सीट से लड़ रहे राजपाल सिंह के पास महज 8.71 लाख रुपए की संपत्ति है.

जेवीएम-पी और कांग्रेस में से सात और पांच उम्मीदवार करोड़पति हैं. जेवीएम-पी के 13 उम्मीदवारों में से पांच दागी हैं या विभिन्न आपराधिक मामलों का सामना कर रहे हैं.

पांकी सीट से चुनाव लड़ रहे बीजेपी उम्मीदवार शशि भूषण मेहता पर एक शिक्षक की हत्या सहित 11 आपराधिक मामले दर्ज हैं. वह रांची में एक स्कूल चलाते हैं. चुनाव की घोषणा से पहले वह बीजेपी में शामिल हो गए. उनके बीजेपी में शामिल होने पर एक हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ था.

बीजेपी, आजसू (AJSU) और जेवीएम-पी ने एक-एक महिला उम्मीदवार चुनावी मैदान में उतारे हैं और कांग्रेस, जेएमएम और आरजेडी गठबंधन ने पहले चरण में किसी महिला उम्मीदवार को नहीं उतारा है. बीजेपी के चतरा से उम्मीदवार जनार्दन पासवान के पास तीन हथियार हैं और उनकी पत्नी के पास एक राइफल है.

बीजेपी के छह उम्मीदवारों के पास बंदूकें हैं. पहले चरण के चुनाव के लिए प्रचार की रफ्तार बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) की 20 नवंबर से शुरू हो रहीं रैलियों के साथ तेज हो जाएगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के भी गुमला में एक रैली को संबोधित करने की संभावना है. हालांकि, पीएम मोदी की रैली की तारीख की पुष्टि होनी अभी बाकी है.