राहुल गांधी की रैली का नहीं मिला है न्यौता, बुलाएंगे तो जाएंगे : तेजप्रताप यादव

बदलाव यात्रा पर शिवहर रवाना होने से पहले तेज प्रताप यादव ने कहा कि सभी जिलों और लोकसभा क्षेत्रों में वो यात्रा निकालेंगे.

राहुल गांधी की रैली का नहीं मिला है न्यौता, बुलाएंगे तो जाएंगे : तेजप्रताप यादव
तेजप्रताप यादव को नहीं मिला है राहुल गांधी की रैली का न्यौता. (फाइल फोटो)

शैलेंद्र, पटना : बिहार सरकार में पूर्व मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) नेता तेज प्रताप यादव का कहना है कि तीन फरवरी को होनेवाली कांग्रेस की जन आकांक्षा रैली के लिए उन्हें अभी तक न्योता नहीं मिला है. अगर राहुल गांधी उन्हें बुलाते हैं, तो रैली में जरूर जायेंगे, क्योंकि राहुल गांधी भी युवा नेता हैं और हम भी. दोनों बदलाव के लिए काम कर रहे हैं.

बदलाव यात्रा पर शिवहर रवाना होने से पहले तेज प्रताप यादव ने कहा कि सभी जिलों और लोकसभा क्षेत्रों में वो यात्रा निकालेंगे. उनकी यात्रा का उद्देश्य गरीब-गुरबा को न्याय दिलाना है. एक सवाल के जवाब में तेज प्रताप ने कहा कि ये सब वो भाई तेजस्वी यादव के लिए कर रहे हैं, जो अभी बिहार से बाहर हैं. पटना आएंगे और उनकी इच्छा होगी, तो वो भी बदलाव यात्रा में शामिल होंगे.

ज्ञात हो कि 2015 के विधानसभा चुनाव के बाद राहुल गांधी 2019 में 3 फरवरी को बिहार में कांग्रेस के द्वारा आयोजित जन-आकांक्षा रैली को सम्बोधित करेंगे, जिसको लेकर कांग्रेसी काफी उत्साहित हैं. यही कारण है कि राजधानी के चौक चौराहों को पोस्टरों से पाट दिया गया है. प्रतिदिन नए पोस्टर जारी किए जा रहे हैं.

वहीं, पोस्टर को लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर निशाना साधा है. पार्टी के विधायक ज्ञानेंद्र सिंह ज्ञानू ने कहा है कि फोटो में जबरन लोग आशीर्वाद खुद ले रहे हैं. इन्हें आशीर्वाद कोई देना वाला नहीं है. अब कांग्रेस धर्म की राजनीति कर रही है, क्योंकि उसको लगता है कि कोई भी हिंदू वोट देने वाले नहीं हैं. कांग्रेस को धर्म से कोई मतलब नहीं है. गीता-रामायण इनसे पूछा जाए तो इन्हें कुछ भी पता नहीं. राम और सीता का पता तक राहुल गांधी को नहीं होगा. कांग्रेस के गठबंधन के साथी राहुल गांधी को प्रधानमंत्री मानने को तैयार नहीं हैं.

कांग्रेस के द्वारा जारी किए गए पोस्टर का आरजेडी ने समर्थन किया है. पार्टी के विधायक चंद्रशेखर ने कहा है कि जो तस्वीर इसमें जारी की गई है वह कोई गुनाह नहीं है. हमारे देश में सभी धर्म के मानने वाले लोग हैं.