थम गया झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार का शोर, अंतिम चरण के लिए वोटिंग कल

इस चरण के चुनाव में महत्वपूर्ण उम्मीदवारों में राज पालीवार, लुई मरांडी और रणधीर सिंह शामिल हैं. कांग्रेस-झामुमो-आरजेडी गठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हेमंत सोरेन दुमका और बरहेट से चुनाव लड़ रहे हैं.

थम गया झारखंड विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार का शोर, अंतिम चरण के लिए वोटिंग कल
बुधवार को अलग-अलग जगहों पर चुनाव प्रचार के दौरान जेपी नड्डा और प्रियंका वाड्रा.

रांची: झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election 2019) के पांचवें और अंतिम चरण में 16 सीटों पर चुनाव होना है, जहां प्रचार बुधवार को समाप्त हो गया. मतदान 20 दिसंबर को होगा. संथाल परगना क्षेत्र में 40,05,200 से अधिक मतदाता 237 उम्मीदवारों के चुनावी भाग्य का फैसला करेंगे. इन उम्मीदवारों में 29 महिलाएं हैं.

साल 2014 में भारतीय जनता पार्टी (BJP) और झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) ने इनमें से छह-छह सीटों पर जीत दर्ज की थी, कांग्रेस को तीन व जेवीएम (JVM) को एक सीट मिली थी.

इस चरण के चुनाव में महत्वपूर्ण उम्मीदवारों में राज पालीवार, लुई मरांडी और रणधीर सिंह शामिल हैं. कांग्रेस-झामुमो-आरजेडी गठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हेमंत सोरेन दुमका और बरहेट से चुनाव लड़ रहे हैं.

बुधवार को प्रचार के अंतिम दिन के दौरान भारतीय जनता पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के लिए प्रचार किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतिम चरण के चुनावों के लिए 15 और 17 दिसंबर को दो रैलियों को संबोधित किया था.

बीते विधानसभा और लोकसभा चुनावों में भाजपा ने झामुमो के इस गढ़ में प्रवेश किया था. 2019 लोकसभा चुनाव में बीजेपी उम्मीदवार सुनील सोरेन ने दुमका में झामुमो अध्यक्ष शिबू सोरेन को हराया.