महाराष्ट्र की राजनीति से बिहार का सियासी पारा भी गरमाया, सामने आए एक से एक बयान

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने देवेंद्र को दोबारा मुख्यमंत्री बनने और अजीत पवार को उपमुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी है. 

महाराष्ट्र की राजनीति से बिहार का सियासी पारा भी गरमाया, सामने आए एक से एक बयान
महाराष्ट्र में सरकार बनने पर खुशी मनाते उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी. (तस्वीर- ANI)

पटना: महाराष्ट्र में शनिवार सुबह देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) के मुख्यमंत्री और अजीत पवार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद बिहार का राजनीतिक पारा भी गर्म हो गया है. सभी दलों के नेता एक-दूसरे को आइना दिखाने में लगे हैं. कई नेताओं ने शिवसेना (Shivsena) पर कटाक्ष किया है तो कई ने बीजेपी पर हमले बोले हैं. केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के नेता गिरिराज सिंह (Giriraj Singh) ने बिना किसी के नाम लिए इशारों ही इशारों में शिवसेना पर तंज कसा है. उन्होंने ट्वीट किया, "ज्यादा लोभ और अहंकार नाश का कारण होता है. देख तमाशा देख."

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने देवेंद्र को दोबारा मुख्यमंत्री बनने और अजीत पवार को उपमुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी है. उन्होंने कहा, "महाराष्ट्र में देवेन्द्र फडणवीस के दोबारा मुख्यमंत्री और अजीत पवार को उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने पर हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं. मुझे पूरा विश्वास है कि आपके कुशल नेतृत्व में महाराष्ट्र लगातार विकास की नई ऊंचाइयां हासिल करेगा." 

राजनीति में 'मौसम वैज्ञानिक' के नाम से चर्चित पासवान ने एक अन्य ट्वीट में लिखा, "सड़क पर वही जानवर मरता है जो निर्णय नहीं लेता है कि दाएं जाएं या बाएं जाएं." इस ट्वीट में उनका इशारा शिवसेना की तरफ माना जा रहा है.

बिहार के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी ने भी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री को बधाई देते हुए कहा कि "शरद पवार, नीतीश कुमार की तरह हैं. वह जानते हैं कांग्रेस से ज्यादा भरोसेमंद बीजेपी है. शिवसेना, राजद की तरह है. राजद की तरह शिवसेना के साथ चलना मुश्किल है."

इस बीच, हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने आज के दिन को लोकतंत्र के लिए काला दिन बताते हुए कहा, "कल तक तो आपको राकांपा आतंकियों की मददगार लगती थी, और आज उसी के साथ आपने सरकार बना लिया. वह दिन दूर नहीं जब बिहार में भी बीजेपी ऐसा ही कुछ करे."

राष्ट्रीय लोकसमता पार्टी (रालोसपा) के प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने भी ट्वीट किया, "भ्रष्टाचार के डर से जेल जाने से बचना है तो बीजेपी के आगे घुटने टेकना होगा. महाराष्ट्र में रातोंरात बैठक हुई, सहमति बनी, निर्णय हुआ, राज्यपाल से समय मांगा, समय मिला, सरकार बनाने का दावा पेश हुआ, राष्ट्रपति शासन हटाने की प्रक्रिया भी हुई. राज्यपाल ने आमंत्रित किया और अहले सुबह शपथ ग्रहण हो गया. वाह! क्या 'सर्जिकल स्ट्राइक' हुआ है लोकतंत्र पर."

उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र में शनिवार सुबह बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता शरद पवार के भतीजे अजीत पवार ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली है. 

(IANS इनपुट)