पटना: चुनाव की तैयारियों में जुटा प्रशासन, 13 कुख्यात अपराधी दूसरे जेल में किए जाएंगे शिफ्ट

बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर प्रशासन सख्त हो गई है. पटना जिले के 11 अनुमंडलों में 14 कंपनियां की तैनाती की जाएगीय थानेदार और सर्किल इंस्पेक्टर बूथों का सत्यापन करने में जुट गए हैं.

पटना: चुनाव की तैयारियों में जुटा प्रशासन, 13 कुख्यात अपराधी दूसरे जेल में किए जाएंगे शिफ्ट
एएसपी उपेंद्र शर्मा ने जानकारी देते हुए कहा कि नॉमिनेशन से पहले सेंट्रल आर्म्स पुलिस फोर्स बल की भी तैनाती की जाएगी. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार (Bihar) में विधानसभा चुनाव को लेकर प्रशासनिक स्तर पर भी तैयारियां शुरू हो गई है. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election 2020) को लेकर प्रशासन सख्त हो गई है. पटना जिले के 11 अनुमंडलों में 14 कंपनियां की तैनाती की जाएगी. थानेदार और सर्किल इंस्पेक्टर बूथों का सत्यापन करने में जुट गए हैं.

एएसपी उपेंद्र शर्मा ने जानकारी देते हुए कहा कि नॉमिनेशन से पहले सेंट्रल आर्म्स पुलिस फोर्स बल की भी तैनाती की जाएगी. फरार आरोपियों की गिरफ्तारी और शराब माफिया पर शिकंजा कसने के लिए पुलिस ने छापेमारी तेज कर दी है. 

साथ ही 50 से अधिक उम्र वाले जवानों के लिए चुनाव में ड्यूटी दिया जाए या नहीं इस पर भी मंथन किया जा रहा है. पटना पुलिस 231 लोगों पर सीसीए लगाने के लिए डीएम को प्रस्ताव भेजा गया है. साथ ही 13 कुख्यात अपराधियों को दूसरे जेलों में ट्रांसफर करने का भी प्रस्ताव भेजा गया है. 

कुख्यात अपराधियों का पटना से भागलपुर और बक्सर जेल में ट्रांसफर किया जा सकता है. इतना ही नहीं, पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए 51 लाइसेंसी आर्म्स को भी कैंसल कर दिया है और 200 लाइसेंसी हथ्यार को जिला प्रशासन ने जमा कराया है. एक अगस्त से अब तक अवैध 92 हथियार और 151 गोलियां भी जब्त की गई है. मिली जानकारी के अनुसार एक अगस्तर से वाहन चेकिंग में 1 करोड़ 41 लाख रुपए जुर्माना वसूला गया है.